1-6 दिसंबर के बीच भोपाल में 7 स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया

0
7
भोपाल। राजधानी में दिसंबर का महीना स्टूडेंट्स के लिए घातक साबित हो रहा है। यहां 1 से 6 दिसंबर तक 7 स्टूडेंट्स ने सुसाइड कर लिया है। शनिवार को  हबीबगंज के श्याम नगर के मकान नम्बर-8 ब्लॉक तीन के मार्टिन सीमोन की 16 वर्षीय बेटी महिमा सारा सीमोन ने फांसी लगा ली।
जानकारी के अनुसार हबीबगंज पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। पड़ोसियों ने बताया कि महिमा सेंट स्टेंपेस स्कूल में दसवीं कक्षा की छात्रा थी। पुलिस के मुताबिक मृतका के पास सोसाइड नोट नहीं मिला है। मौत का कारण फिलहाल अज्ञात बताया जा रहा है। शव को हमीदिया अस्पताल में पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है।
सुसाइड की मुख्य वजह एक्जाम में फेल होना
मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. विनय मिश्रा बताते हैं कि युवाओं में डिप्रेशन की मुख्य वजह एग्जाम या रिलेशनशिप में फेल होना है। इस तरह से डिप्रेशन में आकर बच्चे सुसाइड कर लेते हैं। इसके अलावा और भी कई कारण हैं, जिनकी वजह से युवा सुसाइड करते हैं। सुसाइड करने वाले 70 फीसदी वाले लोग इसी एज ग्रुप के होते हैं। पिछले कुछ सालों के आकड़ों पर यदि नजर डालें, तो लड़कियों के मुकाबले में लड़के दोगुनी संख्या में आत्मघाती कदम उठा रहे हैं।
इन कारणों से व्यक्ति पर बढ़ता है आत्महत्या करने का दबाव
-अपरिपक्व लोगों में आत्महत्या की वजह शैक्षणिक दबाव व प्रेम प्रसंग रहा है।
-परिपक्व लोगों में इसकी वजह कर्ज, पारिवारिक कलह व लंबी बीमारी से अवसाद रही है।
-परीक्षा में फेल होने के अलावा प्रेम प्रसंग और पारिवारिक झगड़े भी बड़ी वजह।
इन कारणों से लोग करते हैं आत्महत्या
40%एग्जाम में नाकामी।
30 %फीसदी लव अफेयर्स।
20 %फीसदी फैमिली प्रॉब्लम।
05 %फीसदी डिसीज डिप्रेशन।
05 %फीसदी फाइनेंशियल प्रॉब्लम।
मप्र में सबसे ज्यादा सुसाइड के मामले
सरकारी अधिकारियों के लाख दावे के बावजूद मध्य प्रदेश में आत्‍महत्‍या के मामले थम नहीं रहे हैं। पिछले साल 14 साल से कम उम्र के 349 बच्‍चों ने सुसाइड की। इसमें 198 लड़के और 151 लड़कियां थीं। अगस्त 2014 में नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने 14 साल के बच्‍चों के सुसाइड से जुड़ी रिपोर्ट जारी की थी। भोपाल में इस तरह के सबसे अधिक अपराध हुए। पिछले साल यहां 27 बच्‍चों ने सुसाइड की। इनमें 19 लड़के और आठ लड़कियां शामिल थीं। वहीं, इंदौर में 15, जबलपुर में एक और ग्‍वालियर में आठ मामले सामने आए थे

LEAVE A REPLY