फेसबुक पर, 5 करोड़ फर्जी अकाउंट

0
15

नई दिल्ली। दुनिया भर में लोकप्रिय सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक का इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या जहां बढ़कर एक अरब से भी अधिक हो गई है वहीं इस पर सक्रिय डुप्लीकेट अकाउंट की संख्या भी लगभग पांच करोड़ पर पहुंच गई है।
फेसबुक के मुताबिक उसने डुप्लीकेट अकाउंट को दो श्रेणियों में बांटकर उनकी पहचान की है। पहली श्रेणी उन अकाउंट की है जिन्हें कारोबार, संगठन और पालतू जानवरों आदि के नाम पर बनाया गया है वहीं दूसरी श्रेणी में वे अकाउंट शामिल हैं जिन्हें ऐसे मकसदों को पूरा करने में इस्तेमाल किया जाता है जिनसे साइट के नियमों का उल्लंघन होता है।
फेसबुक ने बताया कि इस सोशल नेटवर्किंग साइट की लोकप्रियता का आलम यह है कि केवल भारत में ही इसका इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या बढ़कर सात करोड़ 10 लाख पर पहुंच गई है। लेकिन इसका एक नकारात्मक पहलू यह है कि फेसबुक पर डुप्लीकेट अकाउंट की संख्या भी काफी तेजी से बढ़ रही है।
फेसबुक का अनुमान है कि दुनिया भर में 31 दिसंबर 2012 तक पहली श्रेणी के अकाउंट की संख्या कुल अकाउंट का 1.3 प्रतिशत और दूसरी श्रेणी के अकाउंट की संख्या 0.9 प्रतिशत है। कंपनी का कहना है कि इंडोनेशिया जैसे विकासशील देश में डुप्लीकेट अकाउंट बनाने वालों की संख्या अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया जैसे विकसित देशों की तुलना में अधिक है।
फेसबुक ने बताया कि उनके पास डुप्लीकेट अकाउंट बनाने वालों की पहचान करने के लिये पर्याप्त साधन नहीं है लिहाजा उनकी संख्या के बारे में केवल अनुमान लगाया जा सकता है। इस तरह के अकाउंट बनाने वालों की पहचान करने की सही विधि का पता लगने के बाद इनकी संख्या में बढ़ोतरी भी हो सकती है।

LEAVE A REPLY