मोदी सरकार इसी साल लागू करेगी ‘गरीब कल्याण एजेंडा’, मुख्यमंत्रियों की बैठक में हुआ मंथन

0
19

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के गरीब कल्याण एजेंडे को तैयार करने के उद्देश्य से सोमवार को मुख्यमंत्री निवास पर महत्वपूर्ण बैठक हुई। बैठक के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस मसले से जुडे बिंदुओं पर चर्चा हुई है, शीघ्र ही इसका मसौदा पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को सौंपा जाएगा।

इस बैठक में BJP उपाध्यक्ष एवं मध्य प्रदेश के प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे, सीएम शिवराज सिंह चौहान, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस एवं झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास मौजूद थे। करीब दो घंटे चली बैठक के बाद मुख्यमंत्री चौहान ने मीडिया को बताया कि देश में गरीबों को रोटी, कपड़ा, मकान, पढ़ाई,रोजगार एवं दवाई मुहैया कराने के मकसद से गरीब कल्याण एजेंडा तैयार करने का निर्णय लिया गया है।

मख्यमंत्री चौहान ने बताया कि हाल में पार्टी की दिल्ली में बैठक हुई थी, जिसमें लिए गए निर्णय के अनुरूप इस एजेंडे को तैयार करने का काम एक समिति को सौंपा गया है। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितंबर को है। यह वर्ष उनका जन्म शताब्दी वर्ष भी है। इसलिए इसी साल इस एजेंडे को लागू करने का प्रयास किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि मसौदा तैयार कर 25 सितंबर के पहले पार्टी अध्यक्ष अमित शाह एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुंचा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में भी गरीबों के कल्याण संबंधी योजनाएं बनी हैं। इसके बावजूद गरीबी नहीं हट सकी है। अब बीजेपी का प्रयास है कि गरीबों को बुनियादी सुविधाओं के अभाव से नहीं जूझना पड़े। उनके लिए भोजन, वस्त्र, शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास एवं रोजगार के साधन उपलब्ध हो। उन्होंने कहा कि समिति केंद्र एवं भाजपा शासित राज्यों में लागू गरीबों के कल्याण संबंधी योजनाओं का अध्ययन कर रही है। इसके आधार पर मसौदे को अंतिम रूप दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY