राजीव गांधी खेल रत्न एवार्ड को जीतने की दौड़ में सानिया मिर्जा सबसे आगे है

61
नई दिल्ली: कॅरियर के सुनहरे दौर से गुजर रही दुनिया की नंबर वन युगल टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा की मुल्क के टाप खेल एवार्ड राजीव गांधी खेल रत्न के लिए दावेदारी दिगर सभी उम्मीदवारों पर भारी पड़ सकती है। 29 अगस्त को हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की सालगिरह के मौके पर दिए जाने वाले क़ौमी खेल एवार्ड के लिए अब एक महीने का वक्त रह गया है और राजीव गांधी खेल रत्न और अर्जुन एवार्ड के लिए सरगर्मियां तेज हो गई हैं। गुजश्ता साल किसी भी खिलाड़ी को खेल रत्न नहीं दिया गया था। तब इस एवार्ड के दावेदारों में डिस्कस थ्रोअर विकास गौड़ा और कृष्णा पूनिया, टेनिस खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन, गोल्फर जीव मिल्खा सिंह व बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू व पैराएथलीट देवेन्द्र झाझडिया शामिल थे। इस बार सानिया की दावेदारी सबसे ज्यादा मजबूत मानी जा रही है। हालांकि सानिया ने इस खिताब के लिए दरखास्त नहीं दिया है। लेकिन समझा जाता है कि खेल वज़ारत खेल रत्न के लिए उनके नाम की सिफारिश कर सकता है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here