‘स्वच्छ भारत’ अभियान में मोदी ने लोगो को दिलाई शपथ

0
35
नई
दिल्‍ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार सुबह यहां गांधी जयंती के अवसर पर खुद
झाड़ू लगाकर अपने महात्‍वाकांक्षी ‘स्वच्छ भारत’ मिशन की शुरुआत की। प्रधानमंत्री आज सुबह
वल्‍मीकि सदन पहुंचे और वहां स्थित वाल्मीकि बस्‍ती में झाड़ू लगाकर इस अभियान का शुभारंभ
किया। साथ ही, मोदी ने वाल्‍मीकि बस्‍ती में कूड़ा भी उठाया।
इस दौरान उनके साथ कई गणमान्‍य लोग मौजूद थे।
प्रधानमंत्री
ने राजपथ पर एक कार्यक्रम में ‘स्‍वच्‍छ भारत’ की शपथ दिलाने के बाद कहा कि स्वच्छ भारत
मिशन राजनीति से परे है। यह देशभक्ति से प्रेरित है, राजनीति
से नहीं। राजपथ पर स्‍वच्‍छ भारत अभियान की शुरुआत करते हुए कहा मोदी ने कहा कि बापू
(महात्‍मा गांधी) के स्‍वच्‍छ भारत का सपना अभी अधूरा है। यह बापू के सपने को पूरा
करने समय है। यह अभियान बहुत ही सुख देने वाला है। पीएम ने इस मौके पर वहां उपस्थित
बच्‍चों को स्‍वच्‍छता और हर साल 100 घंटे श्रमदान करने की
शपथ दिलाई। शपथ दिलाने के बाद मोदी ने स्‍वच्‍छता मार्च की शुरुआत की। प्रधानमंत्री
ने राजपथ से महात्‍मा गांधी और लाल बहादुर शास्‍त्री को याद करते हुए कहा कि न मैं
गंदगी करूंगा और न ही करने दूंगा। बापू ने हमें सफाई का नारा दिया था। बापू ने देश
को गुलामी से मुक्‍त कराया। लेकिन बापू का क्‍लीन इंडिया का सपना अभी अधूरा है। गांधी
ने स्‍वच्‍छ,
विकसित देश की कल्‍पना
की थी। इसलिए देश की मौजूदा स्थिति को बदलना है। मेरी सरकार पर भरोसा न करें लेकिन
महात्‍मा गांधी पर करें। इस सफाई अभियान को मां भारती की भक्ति से जोडि़ए। गंदगी को
दूर कर देश की सेवा करना हमारा कर्तव्‍य है। स्‍वच्‍छ भारत अभियान हम सबकी सामूहिक
जिम्‍मेदारी है।
उन्‍होंने
कहा कि इस देश की सभी सरकारों ने सफाई को लेकर कई प्रयास किए हैं। उनके प्रयासों की
मैं सराहना करता हूं और वे अभिनंदन के अधिकारी हैं। सफाई और विकास के लिए सभी सरकारों
का अभिनंदन करता हूं। हम सबका दायित्‍व बनता है कि बापू के सपनों को हम सब मिलकर पूरा
करें। स्‍वच्‍छ भारत अभियान को आज जनआंदोलन बनाने की जरूरत है। हमारे पास 2019 तक का समय है और हम सबको
मिलकर इस अभियान को आगे बढ़ाना है। पीएम ने कहा कि इस मिशन से से जुड़ने के लिए राष्‍ट्रनीति
से प्रेरित होकर काम करना है। इसके लिए सोशल मीडिया पर एक अभियान की शुरुआत की है।
इस अभियान के लिए 9 प्रमुख लोगों को आमंत्रित
किया है।
इस
आलोचना को खारिज करते हुए कि उनकी सरकार हर उपलब्धि का श्रेय ले रही है, मोदी ने भारत को स्वच्छ बनाने में पूर्व
की सभी सरकारों के प्रयासों को स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि मैं राजनीति की बात नहीं
कर रहा, यह राजनीति से परे है। यह मेरी देशभक्ति
से प्रेरित है, न कि राजनीति से। हम यह राजनीति के उद्देश्य
से नहीं कर रहे, मैं सच्चे दिल से कहता हूं यदि हम इसे राजनीतिक
रंग देंगे तो हम भारत मां के साथ न्याय नही कर पाएंगे। राजपथ पर उन्होंने इस पंचवर्षीय
अभियान की औपचारिक शुरूआत की जिसके दायरे में 4,041
नगर होंगे।
महात्मा
गांधी ने जिस भारत का सपना देखा था,
उसमें सिर्फ राजनीतिक
आजादी ही नहीं थी, बल्कि एक स्वच्छ एवं विकसित देश की कल्पना
भी की थी। महात्मा गांधी ने गुलामी की जंजीरों को तोडकर मां भारती को आजाद कराया। अब
हमारा कर्तव्य है कि गंदगी को दूर करके भारत माता की सेवा करें।
मैं
शपथ लेता हूं कि मैं स्वयं स्वच्छता के प्रति सजग रहूंगा और उसके लिए समय दूंगा। हर
वर्ष 100 घंटे यानी हर सप्ताह दो
घंटे श्रमदान करके स्वच्छता के इस संकल्प को चरितार्थ करुंगा। मैं न गंदगी करुंगा, न किसी और को करने दूंगा। सबसे पहले मैं
स्वयं से, मेरे परिवार से, मेरे मोहल्ले से, मेरे गांव से एवं मेरे कार्यस्थल से इसकी
शुरुआत करुंगा।
मैं
यह मानता हूं कि दुनिया के जो भी देश स्वच्छ दिखते हैं, उसका कारण यह है कि वहां के नागरिक गंदगी
नहीं करते और न ही होने देते हैं। इस विचार के साथ-साथ मैं गांव-गांव और गली-गली स्वच्छ
भारत मिशन का प्रचार करुंगा।
मैं
आज जो शपथ ले रहा हूं,
वह अन्य 100 व्यक्तियों से भी करवाऊंगा, वे भी मेरी तरह स्वच्छता के लिए 100 घंटे दें, इसके लिये प्रयास करुंगा। मुझे मालूम है
कि स्वच्छता की तरफ बढाया गया मेरा एक कदम पूरे भारत देश को स्वच्छ बनाने में मदद करेगा।
प्रधानमंत्री
नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को लोगों से अपील की कि वे सोशल मीडिया वेबसाइट पर उन गलियों
और सड़कों की तस्वीरें अपलोड करें,
जहां कूड़ा-कचरा जमा हो
और यह भी बताएं इस जगह को उन्होंने कैसे साफ किया? स्वच्छ
भारत मिशन की शुरुआत के बाद लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि मोबाइल एप्पलिकेशन
‘मायगोव’ का
उपयोग करें और फेसबुक एवं ट्विटर पर भी इस अभियान को देशव्यापी स्तर पर फैलाएं।

प्रधानमंत्री
नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को स्वच्छ भारत के संदेश का प्रचार करने के लिए अभिनेता सलमान
खान, अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा, क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और उद्योगपति अनिल
अंबानीसे अपील की। मोदी ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत देश में महात्मा गांधी
की 150 जयंती तक यानी 2019 तक पूरी तरह सफाई होनी चाहिए। प्रधानमंत्री
ने कहा, ”मैंने नौ लोगों को सार्वजनिक स्थानों पर
आ कर स्वच्छ भारत की दिशा में काम करने के लिए आमंत्रित किया है।” नौ हस्तियों में गोवा की राज्यपाल मृदुला
सिन्हा, कांग्रेस सांसद शशि थरूर, योग गुरु बाबा रामदेव, अभिनेता-निर्माता कमल हासन और टेलीविजन धारावाहिक
‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ की टीम भी शामिल है। प्रधानमंत्री ने कहा, ”ये नौ लोग नौ अन्य लोगों को नामित कर सकते
हैं और वे सफाई कर सकते हैं तथा इसके वीडियो अपलोड कर सकते हैं।”

LEAVE A REPLY