जितने किचन अब उतने ही मिलेंगे गैस कनेक्शन…

10

जोधपुर.ऑयल कंपनियों ने एक किचन पर एक कनेक्शन देने की पॉलिसी निर्धारित की है। इसमें उपभोक्ता का कॉमन एड्रेस किसी तरह की बाधा नहीं होगा। कंपनियों ने गैस कनेक्शन का निर्धारण का पैमाना घर में रसोईघर की संख्या को माना है।
केंद्र सरकार ने एक साल में सब्सिडी वाले छह और राज्य सरकार ने तीन गैस सिलेंडर की अतिरिक्त सब्सिडी सहित एक उपभोक्ता को कुल नौ सिलेंडर देने की सीमा निर्धारित की है। इस निर्णय के बाद ऑयल कंपनियों की ओर समाचार पत्रों में विज्ञापन के जरिए एक एड्रेस पर एक से ज्यादा जारी कनेक्शन काटने के लिए जारी की जा रही सूचना को लेकर उपभोक्ताओं में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। शहर के अधिकांश घरों में संयुक्त परिवार होने से एक ही पते पर दो-तीन गैस कनेक्शन होने से लोगों के मन में कई तरह के सवाल उठने लगे हैं। 
एड्रेस प्रूफ नहीं, किचन होगा पैमाना
ऑयल कंपनियों ने स्पष्ट किया है कि संयुक्त परिवार में रहने वाले लोगों का एड्रेस भले ही एक हो, लेकिन उनके बड़े कुनबे में कई छोटे परिवार व उनके किचन होंगे। ऐसे में एक ही पते पर किचन की संख्या को आधार मानकर गैस कनेक्शन की तस्दीक की जाएगी। इसमें कनेक्शनधारी को अपने आईडी प्रूफ अलग से देने होंगे। कंपनी के अफसरों का कहना है कि इसमें गैस एजेंसी संचालक अपने स्तर पर तस्दीक करेगा। 
किराएदार की तस्दीक मकान मालिक करेगा
मकान मालिक और किराएदार दोनों का एक ही एड्रेस प्रूफ होने की स्थिति में मकान मालिक किराएदार के संबंध में अपनी ओर से तस्दीक करेगा। मकान मालिक की ओर से की जाने वाली तस्दीक और उसके किचन को यूनिट मानकर गैस एजेंसी संचालक उनके कनेक्शन को मान्य रखेंगे। इसमें किरायानामे के साथ उसकी ओर से कोई दूसरा प्रामाणिक दस्तावेज दिया जा सकता है।
केवाईसी प्रक्रिया के बाद स्थिति स्पष्ट होगी
आईओसी,बीपीसी व एचपीसी तीनों कंपनियां संयुक्त रूप से सॉफ्टवेयर तैयार कर रही हैं। उपभोक्ता से भरवाए जा रहे केवाईसी फॉर्म में प्राप्त होने वाले डाटा के आधार पर प्रत्येक उपभोक्ता के कनेक्शन का आधार तय होगा। कंपनियां उपभोक्ता के डाटा को जॉइंट सॉफ्टवेयर पर जांच के बाद एक से अधिक कंपनियों में लिए गए कनेक्शन बंद कर देंगी। 
नए कनेक्शन के आवेदन पर रोक नहीं
नए गैस कनेक्शन को लेकर फिलहाल तीनों कंपनियों ने रोक लगा रखी है, लेकिन गैस एजेंसियों को आवेदन लेने की हिदायत है। संयुक्त परिवार में रहने वाले अपने स्वयं के आईडी प्रूफ के आधार पर आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए किसी तरह की रोक नहीं है। कनेक्शन जारी करने की प्रक्रिया शुरू होने पर नियमानुसार वरीयता के आधार पर कनेक्शन दिए जाएंगे। 
ऑयल कंपनियों का पक्ष
‘हमारी कंपनी की पॉलिसी में स्पष्ट है कि संयुक्त परिवार एक एड्रेस नीति में शामिल नहीं है। नीति में एक किचन पर एक कनेक्शन मान्य होने तथा नया कनेक्शन इसी आधार पर देने के निर्देश हैं।’
प्रमोद भुटानी, डीजीएम,आईओसी।
‘घर में किचन के आधार पर गैस कनेक्शन तय करने तथा गृह स्वामी के आईडी प्रूफ के अनुसार कनेक्शन मान्य करने के निर्देश दिए हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here