कश्मीर पर पीएम मोदी के कडे रूख से सहमा पाक

0
8
नई दिल्ली : संयुक्त राष्ट्र में पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार रात भाषण दिया। हालांकि, इससे पहले नवाज शरीफ ने भी संयुक्त राष्ट्र में भाषण दिया और कश्मीर का मुद्दा उठाया था। लेकिन, मोदी ने पाक को इशारों ही इशारों में कडा जबाव दे डाला। इसके बाद जो हुआ वो वाकई चौंकाने वाला था। अब पाकिस्तान के सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज ने माना है कि हुर्रियत नेताओं से मुलाकात गलत समय पर हुई। मोदी ने यूएन में कहा, हमारा भविष्य हमारे भविष्य से जुडा हुआ है। पाकिस्तान के लिए भी हमारी यही नीति है। मोदी ने कहा कि भारत पडोसी देश होने के नाते पाकिस्तान से दोस्ती चाहता है। साथ ही मोदी ने साफ किया कि जब तक पाक आतंकवाद का रास्ता नही छोडेगा, दोस्ती तो दूर वार्ता भी करना पसंद नही करेगा। मोदी ने पाकिस्तान का बिना नाम लिए यहां तक कहा कि कई देश आतंकियों को पनाह देते हैं। इससे पहले पाक पीएम नवाज शरीफ ने एक बार फिर जम्मू-कश्मीर का राग अलापा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवाज शरीफ के इस रवैये का जवाब दिया और साफ कर दिया कि कश्मीर का मुद्दा दो देशों के बीच ही रहना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पाकिस्तान को करारा जवाब देने के बाद पाकिस्तान ने भी आखिरकार मान लिया है कि भारत-पाक के विदेश सचिवों की बैठक से पहले भारत में पाकिस्तानी उच्चायुक्त का अलगाववादी नेताओं से मुलाकात करना सही कदम नहीं था। गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों के बीच अगस्त 2014 में इस्लामाबाद में मुलाकात और बातचीत होनी थी, लेकिन इस मुलाकात से ठीक पहले दिल्ली में पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने अलगाववादी नेताओं से बातचीत की थी जिसके बाद भारत ने इस मुलाकात को रद्द कर दिया था।

LEAVE A REPLY