बारिश में पर्यटन स्थलों पर जाने पर रोक…!

60
पिकनिक पर रहें सावधानः बारिश के दिनों में इंदौर के आसपास के पर्यटन स्थलों पर सैर करने पर रोक लगा दी गई है। क्योंकि कई पर्यटन स्थल पर जोखिम उठाने के फेर में कई लोग मौत के गाल में समा चुके हैं। इंदौर। बारिश के दिनों में इंदौर के आसपास के पर्यटन स्थलों पर सैर करने पर रोक लगा दी गई है। क्योंकि कई पर्यटन स्थल पर जोखिम उठाने के फेर में कई लोग मौत के गाल में समा चुके हैं। कलेक्टर पी.नरहरि ने तिंछाफॉल, पातालपानी, चोरल फॉल, चोरल डेम, सीतलामाता फॉल कजलीगढ़ आदि स्थलों पर शाम छह बजे से सुबह छह बजे तक तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। उनके मुताबिक धारा 144 के तहत इस दौरान कोई पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने संबंधित क्षेत्र के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत और मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर पंचायत को इस प्रकार के सूचना बोर्ड लगाने को कहा है। कानून और व्यवस्था लागू कराने के लिए पुलिसकर्मियों पर तत्काल प्रभाव से यह आदेश लागू कर दिया गया है। पातालपानीः लोग नहीं मानते और हो जाता है हादसा गौरतलब है कि इंदौर के बारिश के मौसम का लुत्फ लेने के लिए हजारों पर्यटक इन खतरनाक स्थलों की ओर रुख करते हैं। बहुत से झरने जानलेवा साबित हो रहे हैं। अवकाश के दिनों में इन स्थलों पर सैलानियों की संख्या काफी बढ़ जाती है। कई बार यह लोग देर रात तक रुके रहते हैं, जो उनके लिए खतरनाक साबित होता है। अब तक 60 से अधिक लोगं की गई जान पुलिस के आंकड़े बताते हैं कि पातालपानी, चोरल और आसपास के वाटर फाल पर मस्ती करने के चक्कर में दस सालों में 60 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। पातालपानी में 2011 में हुई एक ही परिवार के चार लोगों के बह जाने की घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। इससे पहले 2007 में आईआईएम के विद्यार्थी पिकनिक मनाने चोरल नदी पर गए थे। चट्टानों पर बैठने के दौरान ही अचानक जलस्तर बढ़ने लगा और दो विद्यार्थी बह गए। इन हादसों के बावजूद लोग सबक नहीं लेते हैं और लोग जोखिम उठाकर खतरनाक स्थानों पर चले जाते हैं। पातालपानी में पर्यटकों की सुरक्षा नहीं होती है। हालांकि एक स्थान पर रैलिंग लगा दी गई है, वहीं कभी-कभार सुरक्षा गार्ड की तैनाती रहती है। पर्यटकों को रोकने वाला कोई नहीं होता, इसलिए वे जानलेवा कदम उठा लेते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here