माँ ने शरारती बेटे को सबक सिखाने के लिए लिखा अनोखा खत

0
8
लंदन। अपने एक शरारती बेटे को सबक सिखाने के लिए एक माँ ने जब उसे सबक सिखाने की ठानी तो माँ ने अपने इस बेटे को जिम्मेदारियों का अहसास कराने के लिए कहा है कि घर में रहने का किराया, बिजली का बिल, इंटरनेट और खाने-पीने का खर्च भी भरना होगा। फेसबुक के जरिए बेटे को खत लिखकर बताया कि सुधर जाओ या फलां-फलां शर्तों का पालन करो. यह मामला लंदन का है व एस्टेला हावीशेम ने अपने 13 वर्षीय बेटे एरॉन को सबक सिखाने की योजना के तहत यह खत लिखा देखिये.. मां का लिखा खत – डियर एरॉन, लगता है तुम भूल चुके हो कि तुम्हारी उम्र अभी महज 13 साल है और मैं तुम्हारी मां हूं। अब तुम कंट्रोल से बाहर होते जा रहे हो। इसलिए तुम्हें जिम्मेदारी का पाठ पढ़ाने की जरूरत है। जैसा कि तुमने मेरे मुंह पर कहा है कि अब तुम पैसे भी कमाने लगे हो, तो तुम्हारे लिए अपनी चीजें खुद खरीदना आसान होगा। आगे से यदि तुम चाहते हो कि तुम्हें बिजली और इंटरनेट मिलता रहे, तुम्हें इन सेवाओं का खर्च साझा करना होगा। किराया – 430 डॉलर बिजली – 116 डॉलर इंटरनेट – 21 खाना – 150 डॉलर साथ ही, सोमवार, बुधवार, शुक्रवार को तुम्हें कूड़ा फेंकना होगा, झाड़ू लगाना होगा। अपना बाथरूम खुद साफ करोगे। खाना खुद बनाओगे, बर्तन भी साफ करोगे। यदि इनमें से कोई काम नहीं किया तो हर दिन नौकरानी की फीस के रूप में 30 डॉलर चुकाने पड़ेंगे। मुझे ये कदम मजबूरी में उठाने पड़े हैं। यदि तुम्हें लगता है कि तुम फिर से घर में मेरे रूममेट के बजाए मेरे बेटे बनकर रहोगे, तो हम इन शर्तों पर बात कर सकते हैं। लव, मॉम

LEAVE A REPLY