क्रूज मिसाइल ब्राह्रोज का परीक्षण

28
रक्षा मंत्री श्री ए.के. अन्‍टनी ने आज राज्‍य सभा में एक प्रश्‍न के लिखित उत्‍तर में बताया कि हाल ही में, 29 जुलाई, 2012 को, रूस द्वारा निर्मित शस्‍त्रों का प्रतिस्‍थापन करते हुए भारत में निर्मित 25 नए संघटकों तथा उपप्रणालियों का प्रयोग करके एक विकासात्‍मक उड़ान परीक्षण, एकीकृत परीक्षण रेंज (आई टी आर), चांदीपुर से किया गया था। इस परीक्षण में एक उपप्रणाली को छोड़कर सभी अन्‍य उपप्रणालियों तथा संघटकों ने आवश्‍यकतानुसार प्रदर्शन किया था। एक उपप्रणाली के ठीक से कार्य न करने का परिणाम मिसाइल के वेग में वृद्धि, सीमा को पार करना रहा तथा इससे मिशन को समयपूर्व समाप्‍त करना पड़ा। विश्‍लेषण करने के बाद दोष को ठीक कर दिया गया है। आत्‍म-निर्भरता के उपाय के रूप में आगे विकासात्‍मक उड़ान परीक्षण किए जाएंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here