भारत ने रचा इतिहास, ‘एस्ट्रोसैट’ का प्रक्षेपण

0
10
एस्ट्रोसैट’ और छह विदेशी उपग्रहों को लेकर जाने वाले रॉकेट का सोमवार को प्रक्षेपण किया गया। रॉकेट का प्रक्षेपण सुबह ठीक 10 बजे किया गया। 44.4 मीटर लंबा और 320 टन वजनी ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान एक्सएल (पीएसएलवी-एक्सएल) रॉकेट पोर्ट पर लांच पैड से अलग हुआ। ‘एस्ट्रोसैट’ देश का पहला बहु-तरंगदैर्ध्य वाला अंतरिक्ष निगरानी उपग्रह है, जो ब्रहांड के बारे में अहम जानकारियां प्रदान करेगा।

LEAVE A REPLY