हम दुनिया के बड़े भाई है – मोहन भागवत

0
10
नागपुर।
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने आज विजयदशमी के मौके पर स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए
कहा हम दुनिया के बड़े भाई है। संघ प्रमुख ने देश और दुनिया से जुड़े तमाम मुद्दों
पर चर्चा की। भाषण की शुरुआत में पहले तो उन्होंने मंगल ग्रह पर पहुंचने के लिए देश
के वैज्ञानिकों को बधाई दी,
साथ ही एशियाई खेलों मे
पदक जीतने वाले खिलाडिय़ों को भी बधाई दी।
इसके
बाद उन्होंने विश्व में बड़े रहे आतंकवाद और कट्टरवाद का मुद्दा उठाया। कहा कि आतंकवाद
बहुत बढ रहा है इसकों हम सबकों मिलकर रोकना होगा। भागवत ने कहा कि भारत ने कभी किसी
देश या संस्कृति पर हमला नहीं किया। कभी किसी समुदाय पर उसका धर्म या विचारधारा बदलने
का दबाव नहीं डाला। सबको स्वीकार करने और सबको साथ लेकर चलना ही हमारी संस्कृति रही
है और यही हमारी पहचान है। हम भारतीय किसी को भी पराया नहीं मानते हैं। इस लिहाज से
‘हम दुनिया के बड़े भाई हैं।’
संघ
प्रमुख ने प्रधानमंत्री मोदी सरकार की तारीफ की और कहा कि जनता सरकार को थोड़ा और समय
दे। उन्होंने सीमा पर घुसपैठ का भी मुद्दा उठाया और कहा कि हमारे देश के कुछ लोग घुसपैठियों
की मदद कर रहे हैं। इस मुद्दे को उन्होंने बड़ा मुद्दा बताया, इससे दोनो देशों के रिश्तों पर भी फर्क पड़
रहा है।
कार्यकर्ताओं
को संबोधित करते हुए संघ प्रमुख ने मोदी सरकार की खुब तारीफ की। भागवत ने कहा कि नई
सरकार बनने के बाद लोगों की उम्मीद बढ़ी है। साथ ही कहा कि अभी तो मोदी सरकार के 6 महीने भी नहीं हुए हैं, सरकार कोई जादू की छड़ी नहीं है, उन्हें काम करने के लिए समय देने की जरूरत
है। भागवत ने कहा कि मोदी की अमेरिका यात्रा को लेकर लोगों में बहुत उत्साह है। उन्होने
वहां कई मुद्दो पर बात की। जिसमें आतंकवाद के मुद्दे को सबसे अहम बताया।
भागवत
ने कहा कि भारत ने दुनिया को मानवता का उदाहरण पेश किया है, कट्टरता हमारे व्यवहार में कभी नहीं रही
और ना कभी रहेगी। पूरी दुनिया भाषा,
पंथ और निवास के आधार
पर बंटी हुई है। इस वजह से लोग खुद को औरों से अलग मानते हैं। भागवत ने कहा कि कट्टरवाद
का एक सबसे बड़ा मुद्दा खड़ा हो गया है। भागवत ने अपील की कि हमें कट्टरवाद के खिलाफ
एकजुट होना होगा। इसके लिए मैं आप सब से निवेदन करता हूँ।
दूरदर्शन
पर लाइव पर विवाद
आरएसएस
प्रमुख मोहन भागवत के भाषण को दूरदर्शन पर लाइव दिखाया गया। जिसको लेकर एक बहस छिड़
गई है। क्योंकि किसी सरकारी चैनल ने किसी संगठन प्रमुख के भाषण के एक एक अंश की लाइव
कवरेज की है। जिसको लेकर बुद्धिजीवियों में भी बहस छिड़ गई है।

स्वच्छ
भारत भागवत ने इस दौरान पीएम मोदी की ओर से शुरू किए स्वच्छ भारत अभियान की तारीफ भी
की। स्वच्छ भारत पर मोहनभागवत ने कहा कि देश स्वच्छ होना चाहिए।

LEAVE A REPLY