कलाम को देश का अंतिम सलाम

54
रामेश्वरम देशभर के लोगों ने गुरुवार को पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को अंतिम सलामी दी। उनके गृहनगर रामेश्वरम में पूरे राजकीय सम्मान के साथ उन्हें सुपुर्द-ए-खाक किया जा रहा है। कलाम को अंतिम विदाई देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के साथ केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू भी रामेश्वरम पहुंचे। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी समेत तमाम गणमान्य लोगों ने भी पूर्व राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि दी। हालांकि स्वास्थ्य कारणों के चलते तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता नहीं पहुंच सकी। इससे पहले बुधवार को पूर्व राष्ट्रपति का पार्थिव शरीर लेकर एक विशेष विमान दिल्ली के पालम एयरपोर्ट से रामेश्वरम पहुंचा था। डेढ़ एकड़ में बनेगी समाधि रामेश्वरम में स्थित उनके पैतृक आवास पर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। घरों की छतों और गलियों में बच्चे, बूढ़े और जवान लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा। लोगों ने शोक में अपने प्रतिष्ठान बंद रखे। पूर्व राष्ट्रपति को विदाई देने के लिए लोग आंखों में आंसू लिए खड़े रहे। कलाम के बड़े भाई के पोते एपीजेएमके शेख सलीम ने बताया, बड़ी संख्या में लोग कलाम के अंतिम दर्शन के लिए उनके आवास पर पहुंचे हैं। हमारे सभी रिश्तेदार भी उनकी अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए आए हुए हैं। रामेश्वरम रामनाथपुरम जिले के अंतर्गत आता है। डेढ़ एकड़ के प्लॉट में कलाम की समाधि बनाई जाएगी। गूगल ने भी दी जनता के राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि देने वालों की लिस्ट में अब गूगल का नाम भी जुड़ गया है। गूगल ने गुरुवार को अपने होमपेज पर काले रिबन के जरिए भारत रत्न और जनता के राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि अर्पित की। गूगल देश-विदेश की तमाम हस्तियों, अहम मौकों और तारीखों को खास डूडल के जरिए याद करता है। इससे पहले गूगल ने फिल्मकार सत्यजीत रॉय और राजकपूर, मधुबाला सहित कई हस्तियों को श्रद्धांजलि अर्पित कर चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here