मनरेगा के फंड आवंटन सरल : मजदूरों का भुगतान सीधे खाते में

0
8
नयी दिल्ली ! महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी कानून के तहत मजदूरों को मिलने वाली दिहाड़ी के भुगतान में हो रहे विलम्ब को देखते हुए अब यह राशि सीधे उनके खाते में भेज दी जाएगी। सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल की आज शाम हुई बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी। इससे मनरेगा में धनराशि के आवेदन की प्रकिया को सरल बना दिया गया है ताकि समय पर मजदूरों को भुगतान हो सके। सूत्रों के अनुसार सरकार ने यह कदम मनरेगा के मजदूरों को मिलने वाली दिहाड़ी के भुगतान में विलम्ब को देखते हुए उठाया है। मनरेगा के फंड के प्रवाह को अौर सुगम तथा सरल बनाने के लिए केन्द्र सरकार की ओर से फंड की राशि राज्यों के रोजगार गारंटी फंड को भेज दी जाएगी और राज्य की एजेंसियों के जरिए फंड के हस्तानान्तरण आदेश के तहत यह राशि अब सीधे मजदूरों के खाते मेें चली जाएगी। सूत्रों ने बताया कि इस प्रणाली से अब मजदूरों की दिहाड़ी पूरी होने के दूसरे दिन ही उन्हें उसका भुगतान हो सकेगा। इससे अब राज्य अपना अधिक फंड वितरण में लगाने की बजाय मनरेगा की योजना तथा उसके क्रियान्वयन में लगा सकेेंगे। सूत्रों ने बताया कि ग्राम पंचायतों को भी फंड जारी कराने के लिए अधिक संघर्ष नहीं करना पडेगा और फंड के आवंटन में भी पारदर्शिता आएगी तथा भ्रष्टाचार भी दूर होगा। गौरतलब है कि केन्द्र सरकार जब पहले फंड रिलीज करती थी तो उसकी प्रक्रिया काफी जटिल होती थी और उसे कई चरणों से गुजरना होता था जिसके कारण मजदूरों को समय पर भुगतान नहीं हो पाता था।

LEAVE A REPLY