महाकाल की नगरी में विसर्जन के दौरान तनाव

31
उज्जैन. पुराने शहर के छत्री चौक क्षेत्र में सोमवार को प्रतिमा विसर्जन जुलूस के दौरान तनाव फैल गया। पथराव में एक मीडियाकर्मी और तीन बच्चों सहित छह लोग घायल हुए हैं। प्रशासन ने एहतियातन महाकाल, कोतवाली और खाराकुआं थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी है। पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। स्थिति नियंत्रण में है।
शाम 7 बजे तिलकेश्वर बस्ती के लोगों का दुर्गा प्रतिमा विसर्जन जुलूस निकल रहा था। जुलूस जब पुरानी सब्जी मंडी के पास पहुंचा तो वहां एक वर्ग विशेष के लोगों ने लाउड स्पीकर बंद करने का कहा। जुलूस में शामिल लोगों ने बात मान ली लेकिन इसी दौरान जुलूस पर पथराव होने लगा। इससे भगदड़ मच गई और बाजार बंद हो गए। पथराव से अखिलेश मालवीय, उमेश प्रजापत, रूचित धाकड़, रवि, बिट्टू और कुमकुम को चोट आई।
मीडियाकर्मी अजय पटवा भी घायल हो गए। अजय और उमेश को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने भीड़ को तीतर-बितर कर दिया। इसी दौरान कार्रवाई की मांग को लेकर जुलूस के लोगों के साथ पार्षद गब्बर भाटी प्रतिमा लेकर खाराकुआं थाने पहुंच गए। वहां वे धरने पर बैठ गए। बाद में वे प्रतिमा लेकर विसर्जन के लिए रामघाट की तरफ जाने लगे तभी कमरी मार्ग में पथराव हो गया। इस पर जुलूस में शामिल लोगों ने क्षेत्र में दुकानों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इससे एक बार फिर भगदड़ मच गई। मौके पर आईजी वी.मधुकुमार, कलेक्टर कवींद्र कियावत और एसपी अनुराग के साथ पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंच गए। मामले में अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई  है।
तात्कालिक आक्रोश के कारण विवाद हो गया था। एहतियातन धारा 144 लगाई गई है। स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में और सामान्य है। मंगलवार को बाजार और स्कूल-कॉलेज सभी खुले रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here