चौवन वर्षों बाद अमेरिका और क्यूबा के राजनयिक संबंध हुए बहाल

0
6
वाशिंगटन। दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका और क्यूबा के बीच 54 वर्षों के बाद राजनयिक संबंध औपचारिक रूप से आज फिर बहाल हो गए। संबंध बहाली के तौर पर एक-दूसरे देशों की राजधानियों में दूतावासों को फिर से खोल दिया गया है। उल्लेखनीय है कि शीत युद्ध काल के दो प्रतिद्वंद्वियों के बीच दशकों से जारी दुश्मनी को समाप्त करने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है। दोनों पक्षों के दुश्मनी समाप्त करने और बराबरी के आधार पर साथ काम करने की सहमति के बाद दोनों शत्रु राष्ट्रों के बीच ऐतिहासिक बदलाव हुआ है।राष्ट्रपति बराक ओबामा को यह शत्रुता विदेश नीति में विरासत में मिली थी। साम्यवादी क्यूबा पर अलगाव और व्यापार प्रतिबंधों को लागू करने के बावजूद बदलाव लाने के प्रयास में विफल रहने पर अमेरिका ने यह निर्णय लिया है। अमेरिका ने महसूस किया कि क्यूबा को लोकतंत्र और समृद्धि की दिशा में सीधे आगे बढ़ाने के लिए उसके साथ सहयोग करना ज्यादा बेहतर है। व्हाइट हाउस की पहल पर 1961 के बाद पहली बार,वाशिंगटन में क्यूबा का झंडा लहराएगा जो व्हाइट हाउस से कुछ ही दूरी पर स्थित है। अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी औपचारिक रूप से आज अपने क्यूबाई समकक्ष ब्रुनो रोड्रिगेज से बातचीत करेंगे। इसके बाद दोनों देश संयुक्त रूप से एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इससे पहले रोड्रिगेज दूतावास में क्यूबा के हितों के उन्नयन संबंधी एक कार्यक्रम की अध्यक्षता भी करेंगे।

LEAVE A REPLY