बिहार इंटर टॉपर घोटाला के आरोपियों की संपत्ति होगी जब्त, बैंक एकाउंट होंगे फ्रीज

67
पटना,
बिहार इंटर टॉपर घोटाला मामले में विशेष जांच टीम ने अब
आरोपियों की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी है। पटना पुलिस की विशेष
टीम ने इसके लिये बैंकों के सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों को पत्र लिखा है। पुलिस ने
टॉपर घोटाले में गिरफ्तार बच्चा राय, लालकेश्वर प्रसाद सिंह, उषा सिन्हा और हरिहर नाथ झा के अलावा सभी गिरफ्तार आरोपियों
के बैंक एकाउंट को फ्रीज करने के लिये बैंकों के संबंधित अधिकारियों को पत्र भेजा
है। टॉपर घोटाले के लिये गठित एसआइटी की टीम संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई को
लेकर पहला कदम बढ़ा चुकी है। उसी के तहत बैंक एकाउंट को फ्रीज करने के लिये पत्र
लिखा गया है।
टॉपर घोटाले
के जांच के लिये गठित विशेष टीम ने कोर्ट से फरार चल रहे आरोपितों की गिरफ्तारी के
लिये वारंट जारी करने का अनुरोध जारी किया है। वहीं दूसरी ओर उनके इश्तेहार को
लगाने की इजाजत मांगी है। मामले में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की कदाचार कमेटी
के सदस्यों ने बुधवार को न्यायालय में अपना बयान दर्ज करवाया। सभी सदस्यों ने
कोर्ट को बताया है कि बच्चा राय के कॉलेज के खिलाफ गत वर्ष ही उन्होंने अपनी
रिपोर्ट सौंप दी थी लेकिन उस रिपोर्ट पर सचिव और अध्यक्ष कुंडली मारकर बैठे थे।

बिहार में
टॉपर घोटाले का मामला सामने आने के बाद बिहार सरकार ने सीनियर एसएसपी मनु महाराज
के नेतृत्व में एक एसआईटी का गठन किया था। एसआईटी का गठन होने के बाद से मामले में
दर्जनों गिरफ्तारियां हो चुकी हैं और अब भी गिरफ्तारियों का सिलसिला जारी है।
मामले में एसआइटी लगातार छापेमारी कर रही है और घोटालेबाजों के खिलाफ सबूत जुटा
रही है। बोर्ड के कई अधिकारी और कर्मचारियों के सरकारी गवाह बन जाने से जांच में
एसआईटी को काफी राहत मिल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here