अब जूते भी करेंगे बातें

0
12

नई दिल्ली। गूगल भी अब गैजेट वर्ल्ड में तेजी से आगे बढ़ रहा है। गूगल वर्कशॉप में अब खास गैजेट उपलब्ध होगें। बढती टेक्नोलॉजी कि मांग के चलते पहले गूगल स्मार्ट चश्में के बाद अब गूगल लेकर आया है बोलने वाले जूते। 
गूगल ने एडिडास कंपनी के जूतों को मॉडिफाई करके नया रूप दीया है। अब ये गूगल टॉकिंग शूज बन गए हैं। इन जूतों से लोकेशन का आसानी से पता लगाया जा सकता है साथ ही कहीं जाने का रास्ता भी ढूंढ सकते हैं। ये जूते आपसे बात करेगें साथ ही आपके कुछ अपडेट सीधे ट्वीटर और फेसबूक पर भी पोस्ट करेगें।
गूगल ने अनस्यूमिंग एडिडास जूतों को एक कंप्यूटर और स्पीकर से कनेक्ट किया है। इन जूतों में ऎक्सलरोमीटर, जाइरोस्कोप और प्रेशर सेंसर लगे हुए हैं, ऎसे में जो भी शख्स इन जूतों को पहनकर कोई मूवमेंट करेगा, शूज वॉयस अपडेट्स देने लगेगा। जूतों को पहनने वाला शक्स एक तरह से बातें करने लगेगा। 
ये जूते ये भी पता लगा सकते हैं कि इन्हें पहनने वाला शक्स रूका हुआ है या चल रहा है। इसके साथ दौड़ने या हवा में उछलने पर भी वह वॉयस अपडेट देते हुए पहनने वाले से बातें करेगा। 
पिछले सप्ताह पहली बार इन्हें बाजार में डेमों के लिए पेश किया गया गया था। 
एडवर्टाजिंग आट्र्स टीम के मुताबिक ये एक एक्सपेरिमेंट है कि कैसे रोजमर्रा की चीजों को कनेक्ट किया जा सकता है। ये जूते ब्लूटूथ के जरिए सीधे इंटरनेट से जुडे रहते हैं और गूगल मैपिंग ऎप के जरिए लोकेशन और डायरेक्शन का पता लगा सकते हैं। ये जूते सोशल नेटवकिंüग साइट्स के लिए भी लिंक किए जा सकते हैं।
अभी तो गूगल ग्लास का ही इन्तजार ख़त्म नहीं हुआ है और एक नयी तकनीक पर गूगल और एडिडास मिलकर काम कर रहे हैं जिससे आपके जूते भी बात करने लगेंगे .
ये संभव  हुआ है एंड्राइड आधारित फ़ोन और इस नए जूतों को ब्लूटूथ से जोड़कर, ये तकनीक अभी प्राम्भिक अवस्था में ही है जो मूल रूप से ये जूते  पर एक सर्किट बोर्ड  है जो आपके चलने रुकने दौड़ने के आधार पर पूर्व निर्धारित कुछ सन्देश ही दे सकती है
ये एक प्रयास है जिससे लोगों को चलने दौड़ने के लिए ज्यादा प्रेरित किया जा सके पर तकनीकी  रूप से काफी संभावनाएं छुपी हुई है इसमें .
अब देखिये इसका एक विडियो जो गूगल ने आधिकारिक रूप से जारी किया है

अभी तो इसपर काफी काम होना बाकी है और इसे हमतक पहुँचने में कुछ महीनो से साल भर का समय लगने की सम्भावना है .
शायद जल्दी ही हमें हमारे आलसपन को लेकर अब घर के सदस्यों की बजाय हमें अपनों जूतों से ही डांट पड़ने लगेगी .

LEAVE A REPLY