संभागायुक्त द्वारा धान उपार्जन एवं कृषि की समीक्षा

0
6

खरीफ विपणन वर्ष 2012-13 में जबलपुर संभाग में एक लाख 1287 कृषकों से 5 लाख 4844 मीट्रिक टन धान का उपार्जन समर्थन मूल्य पर किया गया है ।  इन कृषकों को 681 करोड़ 53 लाख 94 हजार रूपये का भुगतान किया गया । राज्य शासन ने 1250 रूपये प्रति Ïक्वटल समर्थन मूल्य पर 100 रूपये बोनस राशि प्रदान की है ।  कृषक को प्रति Ïक्वटल धान समर्थन मूल्य पर बिक्री करने पर 1350 रूपये मिले है ।
       यह जानकारी संभागायुक्त दीपक खाण्डेकर की अध्यक्षता में धान उपार्जन एवं
कृषि की समीक्षा बैठक में दी गयी ।  बैठक में बताया गया कि धान का उपार्जन 31 जनवरी तक होगा । धान उपार्जन के पुख्ता इंतजाम किये गये है । कृषकों की सुविधा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है । गत वर्ष 2011-12 में 5 लाख 74 हजार 346 मीट्रिक टन धान तथा 14 हजार 987 मीट्रिक टन मक्का का उपार्जन किया गया था ।  संभागायुक्त ने उपार्जित धान के परिवहन और भण्डारण की समीक्षा की ।  बालाघाट में भण्डारण अपेक्षा से कम पाये जाने पर दूरभाष पर बालाघाट कलेक्टर से जानकारी लेकर उन्हें भण्डारण बढ़ाने समुचित इंतजाम करने के निर्देश दिये ।
       संभागायुक्त ने रबी विपणन वर्ष 2013-14 में गेहूं उपार्जन व्यवस्था के लिये तैयारियों का जायजा लिया । बैठक में बताया गया कि गेहूं उपार्जन के लिये कृषकों का पंजीयन शुरू कर दिया गया है ।  अब तक जबलपुर संभाग में 3319 कृषकों ने पंजीयन कराया है ।  संभागायुक्त ने सभी खरीदी केन्द्रों में पंजीयन कार्य शुरू करने के निर्देश दिये । कृषक पंजीयन 31 जनवरी तक होगा ।  गेहूं उपार्जन के लिये संभाग में 400 खरीदी केन्द्र प्रस्तावित किये गये हैं ।  संभागायुक्त ने निर्देश दिये कि जिला कलेक्टर से समन्वय स्थापित कर खरीदी केन्द्रों को सुनिश्चित किया जाय तथा वहां सभी इंतजाम कार्ययोजना के अनुसार किये जाय । बैठक में कम्प्यूटर हार्ड वेयर, सिलाई मशीन तथा वारदाना की उपलब्धता की समीक्षा की गयी ।
       खाद्य अधिकारी श्री श्रीवास्तव ने बताया कि 7 जनवरी 13 तक जबलपुर जिले में 15 हजार 996 कृषकों से एक लाख 68 हजार 465 मीट्रिक टन धान, बालाघाट में 44 हजार 809 कृषकों से एक लाख 22 हजार 154 मीट्रिक टन, कटनी में 9975 कृषकों से 58 हजार 709 मीट्रिक टन धान, मण्डला में 7178 कृषकों से 28 हजार 18 मीट्रिक टन धान, नरसिंहपुर में 3157 कृषकों से 26 हजार 385 मीट्रिक टन धान, डिण्डौरी में 1699 कृषकों से 4610 मीट्रिक टन और सिवनी में 18 हजार 473 कृषकों से 96 हजार 503 मीट्रिक टन धान का उपार्जन किया गया है ।
       कृषि की समीक्षा के दौरान बताया गया कि संभाग में रबी 2012-13 के लिये अब तक 1485 हजार हेक्टेयर कृषि क्षेत्र में बोनी की जा चुकी है जो कि लक्ष्य का 99 प्रतिशत है।  बीज व्यवस्था के तहत 2 लाख 17 हजार 395 Ïक्वटल प्रमाणित बीज वितरण के लक्ष्य के विरूद्ध लक्ष्य से अधिक 2 लाख 19 हजार 946 Ïक्वटल बीज का वितरण कराया गया है ।  संभागायुक्त ने उर्वरक वितरण कार्य भी लक्ष्यानुसार करने के निर्देश दिये ।  बैठक में कृषि तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे ।

LEAVE A REPLY