आस्ट्रेलिया ने छेड़ी जंगली बिल्लियों के खिलाफ जंग

34
सिडनी। दुर्लभ प्रजातियों के विलुप्तप्राय होने से बचाने के लिए आस्ट्रेलिया सरकार ने उनका शिकार करने वाली जंगली बिल्लियों के खिलाफ जंग का ऐलान करते हुए 2020 तक 20 लाख बिल्लियों को मौत के घाट उतारने का लक्ष्य रखा है। स्थानीय मीडिया के अनुसार आस्ट्रेलिया की सरकार ने गत गुरुवार को इस बाबत घोषणा की है। आस्ट्रेलिया के पर्यावरण मंत्री ग्रेग हंट ने इस युद्ध की कमान दुर्लभ प्रजातियों के विभाग के आयुक्त ग्रेगरी एंड्र्यूज को सौंपी है। ग्रेग हंट ने अपने देश के स्तनधारी जीवों और पक्षियों को विलुप्ति की कगार से बचाने के लिए यह कदम उठाया है। आस्ट्रेलिया के सभी प्रांत और इलाकों में इस बात सहमति बन गयी है कि जंगली बिल्लियों को ‘खतरनाक प्रजाति की सूची में डाला जाये। जंगली बिल्लियों की संख्या कम करने के लिए इन्हें गोली मारी जायेगी या जहर दिया जायेगा। सरकार ने कहा है कि वह बहुत ही प्रभावी और मानवीय तरीके से इन काम को अंजाम देगी। एक अनुमान के मुताबिक आस्ट्रेलिया की दो करोड़ जंगली बिल्लियां हर दिन लगभग सात करोड़ 50 लाख जीवों का शिकार करती हैं। ब्रिटेन के एक अखबार गार्डियन के अनुसार दुनिया में प्रजातियों के विलुप्त होने के मामले में आस्ट्रेलिया का रिकॉर्ड सबसे खराब है। आस्ट्रेलिया में लगभग 1800 प्रजातियां विलुप्त होने की कगार पर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here