आयरलैंड सरकार जुलाई तक गर्भपात कानून बनाएगी

41

आयरलैंड की सरकार ने कहा है कि भारतीय मूल की डेंटिस्ट सविता हलप्पनवार की मौत के बाद देश के विवादास्पद गर्भपात नियमों में सुधार के लिए जुलाई महीने के अंत तक कानून बनाया जाएगा.
सरकार ने यूरोप परिषद को सूचित कर दिया है कि वह अप्रैल तक विधेयक को प्रकाशित करा लेगी और जुलाई के आखिर तक इसे लागू करेगी.
आयरलैंड में पिछले साल अक्तूबर में 31 वर्षीय सविता की यूनिवर्सिटी हास्पिटल गालवे में गर्भपात के बाद मृत्यु हो गयी थी. इस घटना के बाद आयरलैंड के कड़े गर्भपात रोधी कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन और बहस शुरू हो गयी.
आयरिश डॉक्टरों ने कथित रूप से सविता के 17 सप्ताह के गर्भ को यह कहते हुए गिराने से मना कर दिया था कि आयरलैंड कैथलिक देश है जहां गर्भपात की इजाजत कानून में नहीं है. डॉक्टरों के इनकार के बाद सविता की रक्त संक्रमण से मौत हो गयी.
सविता के परिवार का कहना था कि उसे बचाया जा सकता था और उसने पहले कई बार गर्भपात के लिए कहा था.
आयरलैंड की सरकार ने कहा है कि भारतीय मूल की डेंटिस्ट सविता हलप्पनवार की मौत के बाद देश के विवादास्पद गर्भपात नियमों में सुधार के लिए जुलाई महीने के अंत तक कानून बनाया जाएगा.
सरकार ने यूरोप परिषद को सूचित कर दिया है कि वह अप्रैल तक विधेयक को प्रकाशित करा लेगी और जुलाई के आखिर तक इसे लागू करेगी.
आयरलैंड में पिछले साल अक्तूबर में 31 वर्षीय सविता की यूनिवर्सिटी हास्पिटल गालवे में गर्भपात के बाद मृत्यु हो गयी थी. इस घटना के बाद आयरलैंड के कड़े गर्भपात रोधी कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन और बहस शुरू हो गयी.
आयरिश डॉक्टरों ने कथित रूप से सविता के 17 सप्ताह के गर्भ को यह कहते हुए गिराने से मना कर दिया था कि आयरलैंड कैथलिक देश है जहां गर्भपात की इजाजत कानून में नहीं है. डॉक्टरों के इनकार के बाद सविता की रक्त संक्रमण से मौत हो गयी.
सविता के परिवार का कहना था कि उसे बचाया जा सकता था और उसने पहले कई बार गर्भपात के लिए कहा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here