सेवानिवृत्ति में कुछ माह थे शेष, की हो गया बर्खास्त

0
8

भिंड/ग्वालियर। भिंड पुलिस कंट्रोल रूम में पदस्थ एक महिला सिपाही से छेड़खानी के आरोप में जेल में बंद एएसआई मुन्नालाल तिवारी को चंबल डीआईजी डीके आर्य ने बर्खास्त कर दिया है। ग्वालियर-चंबल संभाग में इस तरह का यह पहला मामला है, जिसमें महिला पुलिसकर्मी से अभद्रता करने की सजा पुलिसकर्मी को बर्खास्तगी से चुकानी पड़ी।  
बर्खास्त किए गए एएसआई मुन्नालाल तिवारी जल्द ही सेवानिवृत्त होने वाले थे, लेकिन इसी बीच उन्होंने आरक्षक से छेड़खानी कर दी। बर्खास्तगी के कारण उन्हें सेवानिवृत्ति के बाद मिलने वाले सभी तरह के लाभ से हाथ धोना पड़ेगा। 
यह है मामला
17 जनवरी को सिटी कोतवाली में पदस्थ एएसआई मुन्नालाल तिवारी ने स्थानीय पुलिस कंट्रोल रूम में कार्यरत एक महिला आरक्षक के साथ छेड़खानी की थी। महिला पुलिसकर्मी की शिकायत पर  एएसआई के खिलाफ कोतवाली में मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में एसपी डॉ. आकाश जिंदल ने विभागीय जांच का आदेश दिया था। एक माह में जांच पूरी कर  बर्खास्तगी का प्रपोजल डीआईजी डीके आर्य को भेज दिया गया।
 महिला सिपाही से छेड़खानी के मामले में एएसआई को बर्खास्त किया गया है। यह भिंड जिले का पहला मामला है।
-डॉ. आकाश जिंदल, एसपी, भिंड

LEAVE A REPLY