पाकिस्तान की सत्ता चलाना आसान नहीं : मुशर्रफ

55
कराची : ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग के अध्यक्ष और पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज़ मुशर्रफ़ ने एनबीए मामलों से अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, आसिफ जरदारी और अन्य के खिलाफ मेरी मर्ज़ी से एनबीए मामले नहीं बनाए गए है| उन्होंने दावा किया है कि सत्ता में रहने के दौरान उन्होंने एमक्यूएम नेताओं को गठबंधन सरकार में शामिल करने से पहले समझाया था कि राज्य में उन पर आतंकवादी दल होने का लेबल लग गया है| उर्दू समाचार पत्र डेली पाकिस्तान के अनुसार, मुशर्रफ का मानना है कि पाकिस्तान की सत्ता को चलाना आसान नहीं है । उन्होंने अपनी सरकार के दौरान एमक्यूएम के साथ कई मुद्दों पर सरकार चलाने के लिए समझौता किया था | मुशर्रफ़ ने एमक्यूएम नेताओं को आर्मी हाउस के ड्राइंग रूम में बैठाकर उन्हें समझाया था कि एमक्यूएम के खिलाफ देश भर में यह धारणा है कि वह एक आतंकवादी संगठन है । उन्होनें जोर देते हुए कहा कि आतंकवादियों और पाक विद्रोहियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here