रक्षा मंत्री का “सर्जिकल स्ट्राइक” पर बयान, इस बार RSS से जोड़ा

0
5

नयी दिल्ली : रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज एक कार्यक्रम के दौरान बताया कि सर्जिकल स्ट्राइक के पीछे की प्रेरणा क्या है और इसे कैसे कार्यरूप दिया जा सका इसे बारे में अपना अनुभव साझा किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के संबंध में प्रधानमंत्री व उनका मेल लोगों को समझ में नहीं आ रहा था. उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के राज्य से आने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गोवा से आने वाला मैं रक्षामंत्री, सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में यह मेल लोगों को समझ में नहीं आ रहा था, शायद इसके मूल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सीख ही थी. मालूम हो कि मोदी व पर्रिकर दोनों संघ से जुड़े हैं.

पाकिस्तानी सैनिकों की गोलीबारी में एक जवान के शहीद होने के एक दिन बाद, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज कहा कि भारतीय सेना इस तरह के संघर्ष विराम के उल्लंघन का करारा जवाब दे रही है. उन्होंने कहा, ‘‘पिछले पांच-छह वर्षों में सैकड़ों बार संघर्ष विराम का उल्लंघन हुआ है, आंकड़े देख लीजिए.

अंतर सिर्फ इतना है कि अगर अब वे ऐसा करते हैं तो हम उन्हें करारा जवाब देते हैं.’ जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सैनिकों ने कल दो बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया जिसमें भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया. इससे पहले पर्रिकर ने भारतीय सेना को ‘हनुमान’ के समान बताया था.

LEAVE A REPLY