FB के जरिए लखनऊ में चलता था सेक्स रैकेट

0
26
लखनऊ : यूपी की राजधानी लखनऊ में सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक और फोन एप्प वाट्सऐप के जरिए चल रहे अंतरराज्यीय सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है. मामले में पांच लड़कियों समेत 16 लोगों को दो गेस्टहाउसों से गिरफ्तार किया गया.
गिरफ्तार किए गए लोगों में होटलों में कमरे दिलाने वाले गेस्ट हाउस कर्मचारियों के अलावा पांच ग्राहक भी शामिल हैं. लड़कियां दिल्ली, हरियाणा, लखनऊ और बलिया की हैं. एक लडक़ी दिल्ली में फैशन डिजाइनर है, जो फ्लाइट से आती-जाती थी. लड़कियों की उम्र 20 से 28 साल के बीच है. आरोपियों के पास से 16 मोबाइल फोन और हजारों रुपये बरामद किए गए.
पुलिस ने अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत कार्रवाई की है. गेस्टहाउस को सील करने की कार्रवाई की जा रही है. रात करीब 12.30 बजे इंस्पेक्टर अजीत सिंह चौहान और दरोगा धनंजय पाण्डेय के साथ सीओ गोमतीनगर विद्यासागर मिश्र के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम विपुलखंड स्थित एस्कार्ट और अलकनंदा गेस्टहाउस पहुंची.
पुलिस ने दोनों गेस्ट हाउस के कमरों में छापामारी की जहां अलग-अलग कमरों से पांच लड़कियों को पांच ग्राहकों को पकड़ा गया. गेस्ट हाउस के छह कर्मचरियों को भी सेक्स रैकेट संचालन के आरोप में पकड़ा गया.
इंस्पेक्टर अजीत सिंह चौहान ने बताया कि सेक्स रैकेट का कोई संचालक नहीं है, बल्कि ये फेसबुक और वाट्सएप के जरिए चल रहा था. होटल और गेस्ट हाउस में कमरों की बुकिंग भी वाट्सएप से ही होती थी.
अलकनंदा गेस्टहाउस के कर्मचारी और मऊ के मधुबन सीपाह निवासी अरविंद यादव, लखनऊ के इटौंजा का रवि पवार, बाराबंकी के फतेहपुर टेडवा का सोनू और मानू सिंह और यशप्रीत गेस्ट हाउस का कर्मचारी और गोंडा के परसपुर बस्ती का पुरवा का रमेश वर्मा, लखनऊ के नगराम का राहुल यादव ग्राहकों के ठहरने का इंतजाम करते थे.
पकड़े गए ग्राहकों में लखीमपुर गोला निवासी कपड़ा कारोबारी अवनीश मिश्रा, लखीमपुर खीरी के अवधीटोला निवासी ठेकेदार मो. आमिर, अवनीश का ड्राइवर मेराज, रायबरेली के तिवारीपुर निवासी और दिल्ली में नौकरी करने वाला देशराज और गांधीनगर दिल्ली के ओल्ड सीलमपुर का मो. सईद शामिल हैं.
गेस्ट हाउस मालिक गोसाईंगंज निवासी कार्तिक त्रिपाठी उर्फ सोनू और दीपक उर्फ राहुल और आकाश मौके से भाग निकले. इनकी तलाश की जा रही है.

इंस्पेक्टर ने बताया कि पकड़ी गई लड़कियों में से एक दिल्ली में फैशन डिजाइनर है, जो फ्लाइट से लखनऊ आई थी. सभी लड़कियों को महिला सुधार गृह भेजा गया है, जबकि आरोपी ग्राहकों को जेल भेज दिया गया.

LEAVE A REPLY