दिल्ली चिडियाघर में सफेद बाघ ने 20 साल के छात्र को निगला

0
188
नई
दिल्ली। दिल्ली के चिडयाघर में मंगलवार को एक सफेद बाघ के पिंजरे में कूदे एक युवक
को बाघ ने मार डाला। यह जानकारी एक अधिकारी ने दी। दिल्ली के राष्ट्रीय प्राणी उद्यान
के क्यूरेटर आर.ए. खान ने बताया,
“”युवक
खुद बाघ के पिंजरे में कूदा था। हम उसकी शिनाख्त करने की कोशिश कर रहे हैं।””बाघ
ने पहले युवक को दबोचा और उसके बाद उसे मार डाला।
पुलिस
ने बताया कि दिल्ली के चिडयाघर में एक बाघ ने 20
साल के छात्र को मार डाला। घटना दोपहर डेढ़ बजे की है। वहां पर मौजूद
लोग बता रहे हैं कि छात्र गलती से सफेद बाघ के सामने आ गया था। जिसे बाघ ने अपना शिकार
बना लिया। प्रत्याक्षदर्शियों के अनुसार, ल़डका
सफेद बाघ को देखने के लिए गलती से उसके सामने चला गया, छात्र बाघ को देखकर उसके सामने गिर गया।
 ल़डका कुछ देर तक सहमा हुआ बाघ
के सामने बैठा था। वहां मौजूद लोगों ने पत्थर मारकर बाघ को भगाने की कोशिश की, लेकिन बाघ ने ल़डके की गर्दन पक़ड ली। जिससे
छात्र की मौत हो गई। छात्र 12वीं कक्षा में पढ़ने वाला बताया गया। प्रत्यक्षदर्शियों
के मुताबिक, लोगों ने शोर मचाया लेकिन 15 मिनट तक कोई भी चिडयाघर
का कर्मचारी मदद के लिए नहीं आया।

वहां
मौजूद एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि सबलोग चीता को देख रहे थे। और वो ल़डका झांक रहा
था तभी नीचे गिर गया,
दो मिनट बाद चीता आया
हटते-हटते 10 मिनट हो गए, फिर उसने पंजा मारा। और ल़डके की गर्दन पक़ड
ली। लोगों के सामने वो त़डपता रहा और उसकी मौत हो गई। वहीं चिडयाघर के पीआरओ आर खान
का कहना है कि वो छात्र या तो खुदकुशी करने आया था ये फिर नशे में था वो खुद ही अंदर
चला गया ऎसे में हम लोग क्या कर सकते हैं। 

LEAVE A REPLY