भारत की 1.2 अरब आबादी पर ZIKA का खतरा, वैज्ञानिकों ने चेताया

0
49

पेरिस। नई दिल्ली समेत पूरे भारत की 1.2 अरब आबादी पर जीका वायरस का खतरा मंडरा रहा है। भारत पर खतरे को देखते हुए ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने आज चेतावनी जारी की है। वैज्ञानिकों ने कहा है कि अकेले भारत में 1.2 अरब की आबादी जीका वायरस के खतरे वाले इलाके में रह रही है। उन्होंने कहा है कि जीका अफ्रीका, एशिया और प्रशांत के क्षेत्रों में नए सिरे से अपने पैर जमा सकता है, जहां दुनिया की एक तिहाई से ज्यादा आबादी यानी कम से कम 2.6 अरब लोग रहते हैं।

वैज्ञानिकों ने आगाह किया है कि ये लोग विश्व के उन इलाकों में रहे हैं, जो फिलहाल अप्रभावित हैं और जहांं मच्छर बड़ी संख्या में हैं। वहां का मौसम जीका के पनपने, फैलने के हिसाब से उपयुक्त है। इस कारण अमरीकी उपमहाद्वीपों और कैरिबियाई क्षेत्र की तरह जीका यहां भी महामारी की तरह फैल सकता है। एक अध्ययन में कहा गया है कि आकलन के हिसाब से, जीका वायरस के भौगोलिक दायरे के अंदर रहने वाले लोगों की सबसे ज्यादा आबादी भारत में (1.2 अरब), चीन में (24.2 करोड़), इंडोनेशिया में (19.7 करोड़), नाइजीरिया में (17.9 करोड़), पाकिस्तान में (16.8 करोड़) और बांग्लादेश (16.3 करोड़) में है।

फिलहाल यह एक सैद्धांतिक संभावना है। अफ्रीका और एशिया में जीका के कुछ मामले सामने आए थे लेकिन कोई नहीं जानता है कि क्या यह इतने व्यापक तौर पर फैला था कि लोगों ने इसके लिए प्रतिरोधी क्षमता विकसित कर ली।

LEAVE A REPLY