महंगाई दर 5 माह के सबसे उंचे स्तर पर

0
4
नई दिल्ली। खाद्य वस्तुओं की कीमतों में तेजी के चलते मई में थोक मुद्रास्फीति 5 महीने के उच्च स्तर 6.01 प्रतिशत पर पहुंच गई। अप्रैल में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 5.20 प्रतिशत थी।
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय द्वारा आज जारी आंकड़ों के मुताबिक, आलोच्य माह के दौरान काफी की कीमतों में सालाना आधार पर 23 प्रतिशत की तेजी आई जबकि, पाल्ट्री चिकेन 7 प्रतिशत, मछली 6 प्रतिशत और चाय व फल और सब्जियां 4…4
प्रतिशत महंगे हुए।
 अन्य प्राथमिक वस्तुओं में मसाले, समुद्री मछली, उड़द व मसूर की कीमतों में 3..3 प्रतिशत, चावल व मूंग में 2…2 प्रतिशत और दूध, जौ, पोर्क,
मटन व अरहर की कीमत में एक..एक प्रतिशत की तेजी आई।
 हालांकि, इस दौरान मक्के की कीमत में 5 प्रतिशत, गेहूं व रागी में 2..2 प्रतिशत और अंडा, ज्वार व चना की कीमतों में एक..एक प्रतिशत की कमी आई।
 गैर..खाद्य वस्तुओं में ग्वार सीड 13 प्रतिशत, सोयाबीन 10 प्रतिशत, नारियल 8 प्रतिशत, तंबाकू 7 प्रतिशत, कच्चा जूट 5 प्रतिशत, कच्चा रेशम 3 प्रतिशत, मेस्ता 2 प्रतिशत और मूंगफली, कच्चा कपास व बिनौला में एक..एक प्रतिशत की तेजी आई।
 मार्च के लिए थोक मुद्रास्फीति के आंकड़ों को संशोधित कर 6 प्रतिशत कर दिया गया है जो पहले 5.70 प्रतिशत था।

LEAVE A REPLY