कबड्डी वर्ल्ड कप पर भारत का कब्जा, राष्ट्रपति और पीएम मोदी ने दी बधाई

0
20

अहमदाबाद। द एरेना बाय ट्रांसस्टेरिडया में खेले गए कबड्डी विश्वकप के फाइनल में शनिवार को मेजबान भारत ने ईरान को नौ अंकों के अंतर से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया। मौजूदा चैम्पियन भारत ने ईरान को 38-29 से मात देते हुए लगातार तीसरी बार खिताब अपने नाम किया। पीएम मोदी ने टीम इंडिया को जीत पर बधाई दी है।

भारत की जीत के हीरो दिग्गज रेडर अजय ठाकुर रहे। अजय ने पहले हाफ तक पीछे चल रही भारत को लगातार सफल रेड डालते हुए न सिर्फ बराबरी दिलाई, बल्कि अहम समय पर भारत को मजबूत किया। उन्होंने कुल 12 अंक हासिल किए।

राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी ने भारतीय कबड्डी टीम के कप्तान श्री अनूप कुमार और उनकी टीम के सदस्यों को एक पत्र लिखकर कबड्डी विश्व कप जीतने की बधाई दी। अपने संदेश में राष्ट्रपति ने कहा कि, ‘मैं आपको और आपके टीम के सदस्यों को कबड्डी विश्व कप जीतने की बधाई देता हूं। टीम की कठिन मेहनत और लगन के कारण ही यह सफलता हासिल हुई है। देश को आपकी इस उपलब्धि पर गर्व है। मेरी तरफ से आपको और पूरी टीम को भविष्य के लिए शुभकामनाएं।’

भारत ने मैच की पहली रेड डाली, लेकिन कप्तान अनूप कुमार खाली हाथ लौटे। अजय ठाकुर ने भारत का खाता खोला और फिर स्कोर 2-0 कर दिया। लेकिन मिराज ने अपनी टीम का खाता खोला और फिर ईरान ने बोनस अंक हासिल करते हुए 2-2 से बराबरी कर ली।

यहां से कभी भारत आगे होता तो कभी ईरान। मिराज ने दो अंक लेते हुए अपनी टीम को 9-7 से आगे कर दिया था। यहां भारत ने सुपर टैकल करते हुए दो अंक हासिल कर स्कोर 10-9 कर लिया। हालांकि ईरान ने बढ़त को कायम रखते हुए हाफ टाइम तक मेजबानों पर 18-13 की बढ़त ले ली थी।

दूसरे हाफ में भारतीय टीम ने अपनी रणनीति में बदलाव किया। इस हाफ में मिराज ने एक बार फिर अपनी टीम का खाता खोला। ईरान ने 19-14 की बढ़त ले ली थी। लेकिन अजय ठाकुर ने इस हाफ में लगातर सफल रेड डालते हुए भारत को 20-20 की बराबरी पर ला खड़ा किया।

बराबरी के बाद भारत ने ईरान को ऑल आउट कर स्कोर 24-21 कर भारतीय खेमे में खुशी की लहर ला दी। यहां से भारत ने पीछे मुड़ कर नहीं देखा और 38-29 से जीत हासिल की। इसी के साथ ईरान का पहली बार भारत को मात देने का सपना टूट गया और एक बार फिर से खिताबी मुकाबले में भारत के हाथों हार झेलनी पड़ी।

LEAVE A REPLY