बैंक की शाखा की तरह करें मोबाइल फोन का इस्तेमाल : प्रधानमंत्री

0
4

बठिंडा (पंजाब) : नोटबंदी से उत्पन्न समस्याओं से निजात पाने के लिए मोबाइल बैंकिंग पर जोर देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को लोगों से भ्रष्टाचार एवं कालेधन से निबटने के लिए अपने मोबाइल फोनों को बैंक की शाखा की तरह इस्तेमाल करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मोबाइल की संख्या परिवारों की संख्या से चार गुणा अधिक है और लोगों को अपने मोबाइल का उपयोग भुगतान के लिए करना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘आप अपने फोन पर बैंकों द्वारा प्रदत्त मोबाइल अप्लिकेशन डाउनलोड कर सकते हैं और मैं राजनीतिक नेताओं, शिक्षकों एवं युवाओं से लोगों को मोबाइल बैकिंग का प्रशिक्षण देने की अपील करना चाहता हूं।’ मोदी ने कहा कि नोटबंदी गरीब लोगों को उनका अधिकार देने की दिशा में एक कदम है। उन्होंने कहा, ‘आपको मालूम है कि भ्रष्टाचार, कालेधन के कारण मध्यवर्गों का शोषण होता है और गरीब अपने अधिकारों से वंचित हैं। मैं इसे रोकना चाहता हूं और गरीब लोगों को उनका उचित अधिकार देना चाहता हूं।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘कालेधन का लेन-देन देश को दीमक की तरह खा रहा है। इसलिए 500 और 1000 रुपये के नोटों पर रोक लगा दी गयी है और नये नोटे (लोगों तक) धीरे-धीरे पहुंचेंगे। मेरे पास उन लोगों का शुक्रिया अदा करने के लिए शब्द नहीं हैं जिन्हें (नोटबंदी की वजह से) समस्याएं और असुविधा हुई लेकिन आप ईमानदारी के इस काम में खड़े रहे।’

मोदी ने कालेधन एवं भ्रष्टाचार की बुराई का खात्मा करने के लिए प्रौद्योगिकी की ओर कदम रखने की अपील करते हुए कहा, ‘मैं आपका समर्थन मांगना चाहता हूं। आपका मोबाइल फोन बस मोबाइल फोन नहीं है, आप इसे अपने बैंक और बटुए के रूप में तब्दील कर सकते हैं। यदि आपके पाए एक रुपये भी नहीं है तो भी आज प्रौद्योगिकी ऐसी है कि यदि आपके खाते में रकम है तो आप बाजार में खरीददारी कर सकते हैं और मोबाइल फोन से भुगतान कर सकते हैं। आप नकद में हाथ लगाए बगैर ही अपना कारोबार कर सकते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘जाली नोट ने हमारे युवकों को बर्बाद कर दिया है और अपने युवकों को बचाने के लिए जाली नोट खत्म करना समय की मांग है। मैं आपसे भारत को महान बनाने के वास्ते इस अभियान को पूरा समर्थन करने की अपील करना चाहता हूं।’

LEAVE A REPLY