नगरोदय अभियान में आम जनता और जनप्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश

0
35

जबलपुर | भारत उदय से ग्रामोदय अभियान की तर्ज पर जिले में सितंबर माह से नगरोदय अभियान संचालित किया जायेगा। अभियान के तहत जिले के नगरीय क्षेत्रों में संचालित राज्य और केन्द्र शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन का मैदानी स्तर पर आंकलन किया जायेगा। अभियान के तहत विभिन्न रोजगारमूलक योजनाओं का लाभ हितग्राहियों तक पहुंचाया जायेगा और शिविर लगाकर आम नागरिकों की समस्यायें निराकृत की जायेगी।

यह जानकारी नगरोदय अभियान की तैयारियों के सिलसिले में कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी की अध्यक्षता में आज सम्पन्न हुई बैठक में दी गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. आशीष, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी हर्षिका सिंह, नगर निगम आयुक्त वेदप्रकाश, अपर कलेक्टर छोटे सिंह एवं सुरेन्द्र कथूरिया, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जी.एस. पाराशर, नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त जी.एस. नागेश तथा शहरी विकास अभिकरण, सामाजिक न्याय, खाद्य विभाग एवं छावनी परिषद के अधिकारी मौजूद थे।

कलेक्टर ने बैठक के प्रारंभ में नगरोदय अभियान को लेकर राज्य शासन द्वारा जारी निर्देशों की विस्तार से जानकारी देते हुए इस अभियान में आम जनता की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जनप्रतिनिधियों की सहभागिता भी इस अभियान में सुनिश्चित की जायेगी। श्री चौधरी ने बताया कि नगरोदय अभियान के तहत नगरीय क्षेत्रों में संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन की मैदानी स्थिति का आंकलन करने के लिए जिले के प्रत्येक नगरीय निकाय में वार्डवार और मोहल्लावार अधिकारियों-कर्मचारियों के दल गठित किये जायेंगे।

श्री चौधरी ने कहा कि अभियान के तहत आम जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए शिविरों का आयोजन भी किया जायेगा तथा विभिन्न रोजगारमूलक योजनाओं का हितग्राहियों तक लाभ पहुंचाया जायेगा। कलेक्टर ने अभियान के तहत नगर निगम सीमा क्षेत्र में शामिल ग्वारीघाट, तिलवाराघाट एवं नर्मदा नदी के अन्य घाटों की साफ-सफाई के काम शुरू करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। श्री चौधरी ने ग्वारीघाट से दबाव कम करने के लिए समीप स्थित अन्य घाटों के विकास की योजना भी अभियान के तहत तैयार करने पर जोर दिया। उन्होंने नगरोदय अभियान में तालाबों, नालों और शासकीय भूमि पर हुए अवैध निर्माणों एवं अतिक्रमणों को चिन्हित करने के निर्देश देते हुए कहा कि आंगनबाड़ी भवन और स्कूल भवनों के निर्माण के लिए भी इस अभियान के तहत भूमि का चिन्हांकन किया जाये।

कलेक्टर ने नगरोदय अभियान के तहत जबलपुर शहर के व्यस्त मार्गों पर यातायात को व्यवस्थित करने के लिए आम नागरिकों से चर्चा कर योजना बनाने का सुझाव भी दिया। उन्होंने इसके लिए वरिष्ठ नागरिकों और व्यापारियों की बैठक बुलाने की जरूरत भी बताई। कलेक्टर ने अभियान के तहत नवाचारों को अपनाने पर बल देते हुए नगरीय क्षेत्रों में स्थित उद्यानों के विकास की योजना बनाने की बात कही। उन्होंने कहा कि रिक्त शासकीय भूमि को सुरक्षित करने के साथ उसका क्या उपयोग किया जा सकता है यह भी अभियान के तहत तय किया जाना चाहिए। श्री चौधरी ने अभियान में नजूल की भूमि पर हुए अतिक्रमणों को चिन्हित करने के साथ-साथ गरीबों के पुनर्वास के लिए स्थान चयन के निर्देश भी अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर ने बैठक में बताया कि नगरोदय अभियान में गरीबी रेखा की सूची का शुद्धिकरण का काम भी किया जायेगा। सूची से अपात्र लोगों के नाम काटने और पात्रों के नाम जोड़ने की कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने गरीबी रेखा की सूची के शुद्धिकरण के काम में पूरी पारदर्शिता बरतने की हिदायत देते हुए अधिकारियों से कहा कि सूची में शामिल लोगों के घरों का सर्वे किया जाये और उनके आवासों के छायाचित्र लिये जायें।

श्री चौधरी ने अभियान के तहत आंगनबाड़ी केन्द्रों एवं स्कूलों के युक्तियुक्तकरण करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि अभियान के तहत वार्डवार एवं मोहल्लावार गठित दलों पर लोगों की समस्याओं के निराकरण करने के साथ सार्वजनिक वितरण प्रणाली के खाद्यान्न वितरण, आंगनबाड़ी केन्द्र के बच्चों को पोषण आहार के वितरण तथा सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के तहत हितग्राहियों को पेंशन वितरण की जानकारी जुटाने की जिम्मेदारी भी होगी।
बैठक में बताया गया कि सितंबर माह में शुरू होने वाले नगरोदय अभियान के प्रथम चरण और नवंबर माह में आयोजित किये जाने वाले अभियान के दूसरे चरण संचालन के लिए अपर कलेक्टर छोटे सिंह, नगर निगम जबलपुर और छावनी क्षेत्र का अपर कलेक्टर सुरेन्द्र कथूरिया को जिले के शेष नगरीय निकायों का समन्वयक अधिकारी बनाया गया है। जबकि नगरीय निकायों के प्रमुख अपने-अपने क्षेत्र से इस अभियान के नोडल अधिकारी होंगे।

बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. आशीष ने शहर के व्यस्ततम मार्गों पर यातायात को सुगम बनाने के लिए अभियान के दौरान एकल मार्ग और पैदल मार्ग को चिन्हित करने की जरूरत बताई। उन्होंने कहा नागरिकों की भागीदारी से ही शहर की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाया जा सकता है।

नगर निगम आयुक्त वेदप्रकाश ने बैठक में बताया कि निगम द्वारा नगरोदय अभियान के तहत नागरिकों की बिजली, पानी और साफ-सफाई संबंधी समस्याओं के निराकरण के साथ-साथ आवासविहीन गरीबों का चिन्हांकन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान निगम द्वारा नये लिंक रोड के निर्माण के लिए स्थान चयनित करने का कार्य भी प्रारंभ किया जायेगा।

LEAVE A REPLY