पीवी सिंधु ने जापान की ओकुहारा को हरा फाइनल में प्रवेश किया

0
45

गुरुवार का दिन रियो ओलंपिक में भारत के लिए भाग्यशाली साबित रहा। गुरुवार की तड़के जहां कुश्ती में साक्षी मलिक ने कांस्य जीता, वहीं शाम होते-होते बैडमिंटन से पीवी सिंधु ने फाइनल में जगह बनाकर करोड़ों हिन्दुस्तानियों का सीना गर्व से भर दिया।
रक्षाबंधन का दिन भारत के लिए ओलंपिक की दुनिया में ऐतिहासिक दिन साबित हुआ। इस दिन दो महिला खिलाड़ियों ने इतिहास रचते हुए भारत को ओलंपिक में पदक दिलाए हैं।

बैडमिंटन के महिला एकल मुकाबले में पीवी सिंधु की भिडंत जापान की शीर्ष खिलाड़ी नोज़ोमी ओकुहारा से हई।

बेहद रोमांचकारी मुकाबले में सिंधु ने नोज़ोमी ओकुहारा को 21-19, 21-10 से हरा दिया। इस जीत के साथ सिंधु ने रजत पदक को अपने हिस्से में लेते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया। फाइनल में सिंधु का मुकाबल दुनिया की नंबर-1 खिलाड़ी स्पेन की कारोलिना मारिन से होगा। फाइनल के लिए मुकाबला शुक्रवार की शाम को होगा।

सिंधु चांदी लाए या सोना, वह यह मुकाम हासिल करने वाली पहली भारतीय बैडमींटन खिलाड़ी होंगी।

सिंधु की इस जीत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टुविट कर उन्हें बधाई दी। गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडु और राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने अपने संदेशों में देश की लड़कियों पर गर्व करते हुए कहा कि लड़कियों ने खेल की दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है।

LEAVE A REPLY