SAP सेंटर में मोदी: आतंकवाद समेत इन 5 बातों पर रहा PM का जोर

0
8
21वीं सदी को भारत की सदी बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि सवा सौ करोड़ देशवासियों की संकल्प शक्ति और प्रतिबद्धता के कारण यह परिवर्तन आया है और आज वक्त ऐसा बदला है कि दुनिया, हिन्दुस्तान से जुड़ने के लिए लालायित है। सैन जोस के सैप सेंटर में भारतीय समुदाय के करीब 18,500 लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 20-25 वर्षों से यह चर्चा चल रही थी कि 21वीं सदी किसकी होगी, हर कोई यह तो जरूर मानता था कि 21वीं सदी एशिया की होगी लेकिन पिछले कुछ समय से लोग ये मानने लगे हैं कि 21वीं सदी एशिया की सदी नहीं बल्कि 21वीं सदी हिन्दुस्तान की सदी है। 1. अच्छे या बुरे आतंकवाद की धारणा गलत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद में अच्छे या बुरे के आधार पर भेदभाव की धारणा को गलत करार देते हुए कहा कि आतंकवाद हमेशा बुरा होता है। इसे अच्छे आतंकवाद या बुरे आतंकवाद की श्रेणी में नहीं बांटा जा सकता। आतंकवाद से निपटन के लिए कोई ठोस रणनीति नहीं बना पाने के लिए संयुक्त राष्ट्र की आलोचना करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जब यह वैश्विक संस्था इतना महत्वपूर्ण लेने में अधिक वक्त लगाएगी तो इस खतरे से आखिर किस प्रकार निपटा जा सकेगा। सैप सेंटर में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने उम्मीद जताई कि संयुक्त राष्ट्र जल्द ही इस बारे में निर्णय लेगा कि आतंकवाद से किस प्रकार निपटा जा सकता है। उत्साहित भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यदि हम आतंकवाद को लेकर किसी समझौते पर नहीं पहुंच पाते हैं तो मानव जाति का बचाव नहीं कर सकते। आतंकवाद, आतंकवाद है, इसमें अच्छे या बुरे आतंकवाद के आधार पर कोई भेद नहीं है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के साथ कुछ साल पहले हुई अपनी मुलाकात व बातचीत का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि वर्ष 1993 में जब उन्होंने अमेरिकी अधिकारियों से कहा था कि भारत आतंकवाद से पीडिम्त है, तो उन्होंने इसे मानने से इंकार करते हुए इसे केवल कानून एवं व्यवस्था की समस्या बताया था। बकौल मोदी, अमेरिका खुद वर्ष 2001 में आतंकवादी हमले का शिकार हुआ, जिसके बाद आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिकी विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के सुर बदल गए। प्रधानमंत्री ने कहा कि मेरा देश पिछले 40 वर्षों से आतंकवाद से पीड़ित है। उन्होंने इस मुद्दे को अंतर्राष्ट्रीय मंच पर उठाने की बात करते हुए कहा कि दुनिया को यह समझना होगा कि आतंकवाद किसी को भी कहीं भी अपना शिकार बना सकता है और यह विश्व की जिम्मेदारी है कि इसे समझें और आतंकवाद के खिलाफ एकजुट हों। मोदी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के 70 साल पूरे होने के आवसर पर यह इस वैश्विक संस्था की जिम्म्मेदारी है कि आतंकवाद के खिलाफ एकजुट हो और इससे लड़े, ताकि दुनिया शांतिपूर्वक रह सके। उन्होंने कहा कि मैं महात्मा गांधी और भगवान बुद्ध की भूमि से आता हूं, जो शांति के आदर्श हैं। 2. मोदी ने ‘जेएएम’ अभियान पर जोर दिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए ‘जेएएम’ पहल पर जोर दिया, जिसमें जन धन योजना के तहत बैंक खातों को आधार कार्ड और मोबाइल गवर्नेस से जोड़ा जाना शामिल है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने ‘जेएएम’ की अवधारणा को विस्तार से समझाया। ‘जेएएम’- जन धन वित्तीय समावेशन कार्यक्रम, आधार विशिष्ट पहचान कार्ड और मोबाइल गवर्नेस है। 3. कैलिफोर्निया में दिखी भारत की चमकती तस्वीर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैप सेंटर में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वह तकनीकी विशेषज्ञों के साथ कैलिफोर्निया में भारत की ‘चमकदार छवि’ देख रहे हैं। मोदी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं यहां 25 साल बाद आ रहा हूं। मैंने यहां बहुत से बदलाव देखे हैं। मैं कैलिफोर्निया में भारत की चमकदार छवि देख रहा हूं। उन्होंने कहा कि मैं लोगों की आंखों में एक चमक देख रहा हूं और कुछ बड़ा करने की चाह और सपने भी मुझे उनकी आंखों में दिखाई दे रहे हैं। 4. नई दिल्ली-सैन फ्रांसिस्को उड़ान सेवा की घोषणा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैप सेंटर में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए नई दिल्ली से सैन फ्रांसिस्को के बीच सप्ताह में तीन दिन इस साल दो दिसंबर से सीधी उड़ान सेवा की घोषणा की। उत्साहित भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि दो दिसंबर से एयर इंडिया सप्ताह में तीन दिन दिल्ली से सैन फ्रांसिस्को के बीच सीधी उड़ान सेवा का संचालन करेगी। मोदी ने यह घोषणा अपने करीब एक घंटे के भाषण के समाप्त होने के बाद की। भाषण समाप्त होने के बाद यह घोषणा के लिए वह दोबारा मंच पर आए। 5. देश के लिए जीऊंगा और मरूंगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैप सेंटर में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वह अपने देश के लिए जिएंगे और मरेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं है। उत्साहित भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि आज मैं आपके बीच हूं, मेरे खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं है। ‘मोदी, मोदी’ के नारों के बीच उन्होंने कहा कि आज मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैं अपने देश के लिए जीऊंगा और मरूंगा।

LEAVE A REPLY