स्कॉर्पीन डाटा लीक फ्रांस में हुआ, भारत में नहीं: नौसेना प्रमुख

0
19

मुंबई। मिसाइलों से लैस विध्वंसक युद्धपोत मोरमुगाओ की लांचिंग के अवसर पर नौसेना प्रमुख सुनील लांबा ने कहा है कि स्कॉर्पीन डाटा लीक मामले में प्रारंभिक जांच में पाया गया कि लीक भारत में नहीं हुआ बल्कि फ्रांस में रक्षा कंपनी डीसीएनएस के कार्यालय में हुआ है। “setting up an amazon store”, “how to setup amazon affiliate”

एडमिरल लांबा ने कहा, उच्चस्तरीय समिति हमारी ओर भी स्कॉर्पीन लीक मामले की जांच कर रही है। उन्होंने कहा, इस जांच के आधार पर हम देखेंगे कि क्या करने की जरूरत है। “creating an amazon store”, “setup amazon store”, “create an amazon store”, “how to set up amazon store”, “building an amazon store” 

नौसेना प्रमुख ने कहा, मामले में प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि लीक भारत में नहीं हुआ बल्कि फ्रांस में डीसीएनएस के कार्यालय में हुआ। उन्होंने कहा, फ्रांस में डीसीएनएस और फ्रांस सरकार ने जांच शुरू की है। “amazon affiliates”

उल्लेखनीय है कि भारतीय नौसेना के लिए मुम्बई में डीसीएनएस के सहयोग से बनने वाले छह अति उन्नत स्कॉर्पीन पनडुब्बी की क्षमता से संबंधित 22 हजार पन्नों से ज्यादा गोपनीय डाटा लीक हो गया जिससे सुरक्षा प्रतिष्ठानों में खलबली मच गई थी। “how to use amazon associates”, “how to set up amazon affiliate”

स्कॉर्पीन पनडुब्बियों की क्षमता उस समय सार्वजनिक हो गई जब ऑस्ट्रेलियाई अखबार द ऑस्ट्रेलियन ने वेबसाइट पर इसके ब्यौरे को उजागर कर दिया। ये पनडुब्यियां 3.5 अरब डॉलर की लागत से मुंबई के मक्षगांव डॉक पर बनाई जानी है। “setting up amazon affiliate”, “how to setup amazon affiliate store”, “create astore page amazon”, “how to build a amazon affiliate store”, “amazon affiliate setup”

LEAVE A REPLY