रघुराम राजन का सपना हुआ पूरा, अब मोबाइल नंबर से ट्रांसफर करें पैसा

0
49

रबीआई गवर्नर रघुराम राजन का देश को कैशलेस इकोनॉमी बनाने का सपना साकार होने जा रहा है। अब आप अपने स्मार्टफोन के जरिए किसी से भी पैसे का लेन-देन कर सकते हैं। इसके अलावा इस बात की पुष्टि भी कर सकते हैं कि जिसको आपने पैसे दिए उस तक पैसे पहुंच गए या नही। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NCPI) ने एक एप विकसित किया है, जिसका नाम यूनीफाइड पेमेंट्स इंटरफेस(यूपीआई) है। इस समय 21 बैंकों के ग्राहक इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। एनसीपीआई की सभी तरह के रिटेल पेमेंट सिस्टम में प्रमुख भूमिका है।

एनपीसीआई के एमडी ने गुरुवार को यह जानकारी दी कि विश्व में मोबाइल एप के जरिये इतने बड़े पैमाने पर रियल टाइम में धन भेजने और पाने की सुविधा कहीं नहीं है। यूपीआई एप के सीमित परिचालन की घोषणा इस साल 11 अप्रैल को आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने की थी।

एप के जरिए क्या-क्या कर सकते हैं:

इस एप के माध्यम से 50 रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक का लेन-देन के लिए किया जा सकेगा।
यह आपको रियल टाइम पेमेंट करने की सुविधा देगा यानी आप तुरंत पैसे पे कर सकेंगे। फिर चाहे वह डिनर का बिल हो या ऑटो वाले का किराया। अभी तक ऑनलाइन मनी ट्रांसफर होने में कम से कम 2 घंटे तो लगते ही थे। इसलिए रियल टाइम पेमेंट इसे और खास बना देती है।

ऑनलाइन शॉपिंग आदि के लिए नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।
अगर आपके पास किसी दोस्त की यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस)आईडी है तो आप अपने स्मार्टफोन के जरिये उसे मनी ट्रांसफर कर सकते हैं। ई-बैंकिंग में इसे अब तक का सबसे सुरक्षित जरिया कहा जा रहा है।
आपको करना क्या है:

सबसे पहले अपने स्मार्टफोन में गूगल प्लेस्टोर में जाकर बैंक का UPI ऐप डाउनलोड करना होगा।
इस ऐप को बैंक अकाउंट से कनेक्ट करना होगा। ऐसा करने पर आपका वर्चुअल पेमेंट एड्रेस जेनरेट हो जाएगा। यह आपके बैंक अकाउंट के साथ जुड़ जाएगा।
इसके बाद एक यूनीक आईडी बनानी होगी। आईडी बनाने के बाद आपको मोबाइल पिन जेनरेट करना होगा, जिसे अपने आधार नंबर से भी लिंक(जोड़ना) करना होगा।
अब आप जिसे फंड ट्रांसफर करना चाहते हैं, आपको उसकी यूपीआई आईडी की जरूरत होगी। आप उस आईडी को एंटर करके उसके बैंक अकाउंट में फंड ट्रांसफर कर सकते हैं।
इन बैंकों के कस्टमर कर रहे हैं एप का इस्तेमाल:
आंध्र बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, भारतीय महिला बैंक, केनरा बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, कर्नाटक बैंक, यूको बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नैशनल बैंक, साउथ इंडियन बैंक, विजया बैंक और येस बैंक।

LEAVE A REPLY