निरीक्षण के दौरान कॉटेज इंडस्ट्री से 8 लाख की साड़ियां पैक कराई लाईं स्मृति,फसीं विवादों में

0
16

नईदिल्ली। अफसरों से विवाद के कारण मानव संसाधन विकास मंत्रालय से बेदखल की गईं केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी एक बार फिर विवाद में फंस गई है। जानकारी अनुसार स्मृति ईरानी कॉटेज इंडस्ट्री से 8 लाख की साड़ियां उठा लाईं, जब सचिव ने इस पर आपत्ति जताई तो बोलीं कि महकमे के मंत्री को अपने अधीन चल रहे संस्थान का बना कपड़ा पहनने का अधिकार है। इसका भुगतान कपड़ा मंत्रालय को करना चाहिए।

स्मृति ईरानी ने 8 लाख की साडिय़ां खरीदीं

बताया जा रहा है कि केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी मंत्रालय के अधीन संचालित कॉटेज इंडस्ट्री का मुआयना करने गईं थीं इस दौरान उन्हें कुछ महंगी साडिय़ां अच्छी लगीं तो उन्हें पैक करा लिया। साड़ियों के साथ में एक गणेश भगवान की मूर्ति भी थी। इन सब की कीमत करीब 8 लाख रुपए बताई जा रही है।

सेक्रेटरी ने भुगतान से मना किया

जानकारी के मुताबिक स्मृति ईरानी के निजी स्टाफ ने बिल भुगतान के लिए कपड़ा मंत्रालय की सेक्रेटरी के पास भेज दिया। बिल जब कपड़ा मंत्रालय की सचिव रश्मि वर्मा के पास पहुंचा, तो उन्होंने साड़ियों के बिल का भुगतान करने से इनकार कर दिया। इसके बाद वर्मा और मंत्री में अनबन हो गई। खबर में कहा गया है कि सचिव रश्मि वर्मा ने इसकी शिकायत कैबिनेट सेक्रेटरी से की है।

कुछ लोग नहीं करते पसंद स्मृति को

कपड़ा मंत्रालय के मैनेजिंग डायरेक्टर ने अपनी मंत्री की छवि को खराब होने से बचाने के लिए यहां तक कह दिया कि स्मृति ईरानी ने कोई खरीददारी की ही नहीं है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग स्मृति को पसंद नहीं करते हैं, इसलिए वे उनकी छवि खराब करने के लिए उनके पर मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं।

ट्विटर पर घिरी स्मृति

इस मामलें को लेकर स्मृति एक बार फिर ट्विटरवार में फंस गई हैं। जहां यूजर्स उन पर कई टिप्‍पणियां दे रहे हैं वहीं #LooteriMinister और #लूट_की_रानीSmritiIrani हैशटैग के साथ उन पर तंज कस रहे हैं।

LEAVE A REPLY