VFJ चार्जमैन के घर और दफ्तर पर सीबीआई का छापा

0
6
जबलपुर। वाहनों के साइलेंसर सप्लाई में घोटाले में आरोपी वीएफजे के चार्जमैन आशीष कुमार और कानपुर की बुलेट लॉक कंपनी के संचालक संजय पुरी के कानपुर स्थित घर और दफ्तर पर सीबीआई ने शनिवार को छापा मारा। आशीष के घर की जांच में बिलहरी में एक फ्लैट, नीमखेड़ा में एक प्लॉट और भागलपुर में दो बैंक खातों का पता चला है। सीबीआई ने जांच के दौरान कई दस्तावेज जब्त किए हैं। आरोपियों के खिलाफ आपराधिक षड़यंत्र और भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। सीबीआई को शिकायत मिली कि वीएफजे के मटेरियल मैनेजमेन्ट सेक्शन में पदस्थ चार्जमैन आशीष कुमार द्वारा लेप्टा और स्टेलियन वाहनों के साइलेंसर सप्लाई करने वाली कानपुर की बुलेट लॉक कंपनी को टेंडर और सप्लाई में अवैध रूप से लाभ पहुंचाया जा रहा है। प्रांरभिक जांच में पाया गया कि बुलेट लॉक कंपनी ने पिछले दो साल में आशीष कुमार के एक्सिस बैंक खाते में 46 हजार रूपए जमा कराए हैं। सीबीआई ने प्रकरण दर्ज करने के बाद शनिवार सुबह आशीष कुमार और संजय पुरी के घर और दफ्तर में छापा मारा। फ्लैट, प्लॉट और दो बैंक अकाउंट मिले आशीष कुमार के बिलहरी के मोहित रेसीडेन्सी में आलीशान फ्लैट की कीमत रजिस्ट्री में 14 लाख रूपए दर्ज है। इसी साल जुलाई में उन्होंने फ्लैट में शिफ्ट किया है। सीबीआई अधिकारियों का कहना है कि फ्लैट का बाजार मूल्य चार गुना अधिक है। इसके अलावा नीमखेड़ा में एक प्लाट और भागलपुर में दो बैंक अकाउंट मिले हैं। फैक्ट्री से मिली दस फाइलें मटेरियल मैनेजमेन्ट सेक्शन की जांच में सीबीआई को पता चला कि आशीष कुमार बुलेट लॉक कंपनी के लाइजनर के रूप में काम करता था। वह कंपनी की फाइलें विभिन्न विभागों से क्लीयर कराता था। जांच के दौरान सीबीआई को दस ऎसी फाइलें हाथ लगी हैं, जिनमें चार्जमैन आशीष कुमार ने अलग-अलग कंपनियों को अवैध तरीके से लाभ पहुंचाया है। वीएफजे में 12 घंटे चली जांच सीबीआई की टीम वीएफजे के मटेरियल मैनेजमेन्ट सेक्शन में सुबह 8 बजे पहुंच गई थी। फैक्ट्री में सीबीआई की टीम पहुंचते ही अफरा-तफरी की स्थिति बन गई। कई अधिकारियों और यूनियन नेताओं ने सीबीआई के अधिकारियों से बात करने की कोशिश की। सीबीआई ने चार्जमैन आशीष कुमार की उपस्थिति में फाइलों की जांच की। जांच का काम रात 8 बजे तक चलता रहा। 15 दिन में दो बड़ी कार्रवाई सीबीआई ने पिछले 15 दिन के दौरान आयुध निर्माणियों में दो बड़ी कार्रवाई की है। 15 दिन पूर्व एम्युनेशन बॉक्स कम्पोनेन्ट घोटाले में जीसीएफ के चार अफसरों के घर पर छापा मारा था। शनिवार को वीएफजे के चार्जमैन के खिलाफ कार्रवाई की गई। सीबीआई की कार्रवाई से आयुध निर्माणियों के अफसरों में दहशत का माहौल बन गया है। वीएफजे के मटेरियल मैनेजमेन्ट सेक्शन में पदस्थ चार्जमैन आशीष कुमार और बुलेट लॉक कंपनी कानपुर के संचालक संजय पुरी के घर और दफ्तर में छापे मारे गए। छापे की कार्रवाई रविवार को भी जारी रहेगी। मनीष सुरती, एसपी सीबीआई

LEAVE A REPLY