सीरिया में आइएस आतंकी समझकर अमेरिकी हमले में 62 सैनिक मारे गए, रूस ने जताई आपत्ति

0
20

अमेरिकी हवाई हमले में 62 सीरिया सेना के जवान मारे गए। हालांकि, करीब 90 जवानों के मारे जाने का दावा किया जा रहा है। 

बेरूत, रायटर : सीरिया में अमेरिका और रूस के बीच युद्धविराम के मध्य अचानक हुए अमेरिकी हवाई हमले में सीरियाई सेना के 62 जवान मारे गए हैं। दावा 90 जवानों के मारे जाने का भी है। करीब एक सौ सैनिक घायल हुए हैं। हमले पर रूस ने आक्रोश जाहिर किया है तो अमेरिका ने इसके लिए खेद जताया है। “IS militants in Syria”

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि हमला गलतफहमी के चलते हुआ। आइएस आतंकी समझकर कार्रवाई की गई। रूस की मांग पर शनिवार रात ही संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आपात बैठक हुई। बैठक में रूस ने अमेरिका पर सीरिया में हुए समझौते को जान-बूझकर तोड़ने का आरोप लगाया। अमेरिका ने इस आरोप को गलत बताया है। “hmp isis”, “isil isis”, “isis”, “isis al qaeda”, “isis iraq”, “isis islam”, “isis news”

सुरक्षा परिषद में अमेरिकी प्रतिनिधि समांथा पावर ने कहा है कि रूस मामले को अनावश्यक तूल दे रहा है। अमेरिकी कार्रवाई गलतफहमी के चलते हुए, जिसके लिए खेद जताया गया है। हम पूरे मामले की जांच करा रहे हैं। सीरिया पर हमने रूस के साथ समझौता अच्छी नीयत और पूरे विश्वास से किया था लेकिन यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से हो गई। जबकि सुरक्षा परिषद में रूस के प्रतिनिधि विटली चुरकिन ने एक सवाल के जवाब में कहा है कि दोनों देशों का शांति समझौता अनिश्चितता में फंस गया है। अभी उसके बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी। “what is isis”

उधर रूस सरकार ने कहा है कि जिस डीयर अल जोर इलाके में हमला हुआ, वहां वास्तव में सीरियाई सेना का ठिकाना था। फिर वहां पर आइएस आतंकियों को लेकर गलतफहमी कैसे हो सकती है? रूस का आरोप है कि अमेरिका का यह हमला सीरिया में विद्रोही गुट को ताकत देने के लिए किया गया है। उल्लेखनीय है कि रूस सीरिया में बसर अल असद की सरकार का समर्थन कर रहा है।  “isis syria”, “islamic group”, “levant”, “saudi arabia news live”

आइएस ने सीरिया का लड़ाकू विमान मार गिराया  [hmp isis], [isil isis], [isis], [isis al qaeda]
आतंकी संगठन आइएस ने सीरियाई वायुसेना का एक लड़ाकू विमान मार गिराया है। यह दावा आइएस से जुड़ी न्यूज एजेंसी अमाक ने रविवार को किया है। सीरिया में मानवाधिकारों पर नजर रख रही एक संस्था ने भी घटना की पुष्टि की है। जानकारी के अनुसार डीयर अल जोर इलाके में मार गिराया गया विमान मूल रूप से रूसी मिग था। [isis iraq], [isis islam], [isis news], [isis syria], [islamic group], [levant], [saudi arabia news live], [what is isis]

LEAVE A REPLY