इलाहाबाद: किराना व्यापारी की हत्या के विरोध में शव रख कर लगाया सड़क पर जाम

इलाहाबाद: शिवकुटी थाना क्षेत्र में हुई अमर भारतीय की हत्या के विरोध में लोग सड़क पर उतर आए। हत्यारोपितों की गिरफ्तारी, मृतक परिवार के लिए सरकारी नौकरी और मुआवजे की मांग को लेकर परिजनों ने अमर का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। इससे वहां अफरा-तफरी मच गई। सीओ, एसडीएम समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसी तरह नाराज लोगों को आश्वासन देकर शांत कराया।

शिवकुटी थाना क्षेत्र के नया गांव तेलियरगंज मुहल्ले में रहने वाला अमर भारतीय (27) पुत्र स्व. भारत लाल किराना व्यापारी था। रविवार रात वह करीब नौ बजे घर से निकला था। आधे घंटे के बाद उसकी बहन मृदुला के पास फोन आया कि तुम्हारा भाई सड़क पर खून से लथपथ पड़ा है। पुलिस के साथ परिजन मौके पर पहुंचे और अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। इससे परिवार में गम व गुस्सा छा गया। अमर तीन भाई व एक बहन में तीसरे नंबर पर था। वह अविवाहित था। बड़े भाई आनंद ने टीबी कॉलोनी के सर्वेंट क्वार्टर में रहने वाले चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संदीप और उसके साथियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।कत्ल का कारण पैसे का विवाद या कुछ और।शिवकुटी के प्रभारी थानाध्यक्ष घनश्याम निषाद का कहना है कि अमर भारतीय ब्याज पर पैसा देने का काम करता था। उसने संदीप को भी 15 हजार रुपये दिए थे। इसी को लेकर उनके बीच विवाद हुआ था। रविवार रात अमर शराब के नशे में टीवी कॉलोनी के पास अपनी बाइक स्टार्ट कर रहा था, तभी पीछे से ईंट से हमला किया गया। जब वह जमीन पर गिरा तो दोबारा ईंट-पत्थर से मारा गया। हालांकि घरवाले हत्या के कारण के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता रहे हैं। आसपास के लोग आशनाई की भी चर्चा कर रहे हैं। घर में ताला लगाकर आरोपित का परिवार फरार हैं।हत्याकांड के बाद पुलिस ने आरोपित के घर पर छापेमारी की तो वहां ताला लगा हुआ था। पुलिस उसकी तलाश में दबिश दे रही है। कहा जा रहा है कि रविवार रात संदीप व अमर एक साथ थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अमर के शरीर पर चोट के नौ निशान मिले हैं। इसमें धारदार हथियार के भी जख्म है।