•  इलाहाबाद : कौडि़हार से सहसों के बीच बनने वाली इनर रिंग रोड से शहरवासियों के लिए इनर रिंग रोड के रूप में अनोखी सौगात जल्द मिलेगी। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के प्रस्ताव को केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है। कौडि़हार से सहसों के बीच बनने वाली इनर रिंग रोड से लोगों की राह आसान होगी। साथ ही शहर के अंदर वाहनों का दबाव कम हो जाएगा। इससे आए दिन जाम के झाम से जूझने वाले लोगों को काफी राहत मिलेगी।
  •  इनर रिंग रोड की मांग केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने की थी। सात फरवरी को परेड ग्राउंड में आयोजित 5632 करोड़ के कार्यों के लोकार्पण, शिलान्यास एवं शुभारंभ समारोह में नितिन गडकरी शामिल हुए थे। तब उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने उनके समक्ष इनर रिंग रोड की मांग उठाई थी। गडकरी ने कहा था वह केशव प्रसाद मौर्य की मांग को जल्द पूरा कराएंगे।
  • यहां से गुजरेगी रोड :
  • इनर रिंग कौडि़हार के पास सलहा से पुराने एनएच-2 से होकर दांदूपुर से महुआरी और सरस्वती हाईटेक सिटी के बीच गुजरेगी। अंदावा होते हुए सहसों के पास मिलाया जाएगा। इस बीच करीब सात सौ मीटर लंबा पुल खुरेसर गांव के पास गंगा पर बनेगा। संगम से छह किलोमीटर आगे गंगा पर ही ढाई किमी. लंबा दूसरा पुल बनेगा। जबकि बख्शी मोढ़ा के पास यमुना पर छह सौ मीटर लंबा पुल बनाया जाएगा।इनर रिंग रोड जिन गांव व क्षेत्रों से गुजरेगी वहां जमीन का दाम बढ़ जाएगा। आवागमन की बेहतर सुविधा होने से पूंजीपति उन क्षेत्रों की ओर रुख करेंगे। इससे बड़ी बिल्डिंग बनने के साथ स्कूल, कॉलेज भी खुलेंगे। इनर रिंग रोड को मंजूरी मिल गई है। अब हम कार्ययोजना तैयार करने व भूमि अधिग्रहण के काम में जुटेंगे। शासन से निर्देश है कि सारा काम जल्द पूरा किया जाए।; एके राय परियोजना निदेशक एनएचआइ