कौशांबी ; केशव प्रसाद के पिता की अंतिम दर्शन करने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

कौशांबी ;उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के पिता श्यामलाल मौर्य को श्रद्धांजलि देने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई मंत्री विधायक व हजारों लोग सिराथू पहुंचे। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के पिता श्यामलाल को श्रद्धांजलि देने रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई मंत्री विधायक व हजारों लोग उनके आवास सिराथू पहुंचे। उनके पार्थिव शरीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने के बाद मुख्यमंत्री ने शोक संवेदना व्यक्त की परिवार वालों को ढांढस बंधाया। दोपहर बाद वाहनों के काफिले के साथ शवयात्रा यात्रा कड़ा पहुंची जहां हनुमान घाट पर उनकी अंत्येष्टि की गई। बड़े पुत्र सुखलाल ने मुखाग्नि दी केशव प्रसाद मौर्य के पिता का निधन शनिवार को लखनऊ के डॉक्टर राम मनोहर लोहिया अस्पताल में हो गया था । रात में ही उनका पार्थिव शरीर लेकर उपमुख्यमंत्री अपने पैतृक आवास पर आए थे। रविवार सुबह से ही अंतिम दर्शन के लिए भीड़ जमा होने लगी दोपहर बाद उनके पार्थिव शरीर कोअंत्येष्टि  के लिए गंगा के किनारे कड़ा के हनुमान घाट पर ले जाया गया। इस समय पर मंत्री गण, सिद्धार्थ नाथ सिंह, बृजेश पाठक, जय कुमार जैकी, राघवेंद्र प्रताप उर्फ धुन्नी सिंह, उपेंद्र तिवारी, दारा सिंह चौहान, सुरेश पासी, केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, रमापति शास्त्री, सांसद जगदंबिका पाल, सांसद विनोद कुमार सोनकर, सुनील बंसल, इलाहाबाद की मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी सहित अन्य कई मंत्री विधायक और जनप्रतिनिधियों ने विगत की आत्मा की शांति के लिए श्रद्धा सुमन अर्पित किए। भीड़ के कारण रास्ते में जाम के हालात बने रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 11:00 बजे मंझनपुर पहुंचे। और उसके बाद सीधा केशव प्रसाद मौर्य के पैतृक आवास का रुख किया। उनके साथ कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह तथा राज्य मंत्री सुरेश राणा भी केशव प्रसाद मौर्य के घर सिराथू पहुंचे। सीएम योगी आदित्यनाथ के आगमन की सुरक्षा पर कड़ा में जेसीबी लगाकर रास्ते की साफ-सफाई सहित पार्किंग भी बनाई गई थी। मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर दस बजकर पचास मिनट पर मंझनपुर पुलिस लाइन में उतरा। उसके के बाद 11:15 पर उप मुख्यमंत्री के घर पहुंचे। केशव प्रसाद मौर्य के घर पर पहुंचकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके पिता के अंतिम दर्शन की और श्रद्धांजलि दी करीब 15 से 20 मिनट तक वहां पर रुके। और फिर वापस लखनऊ लौट गए। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के पिता का कल दोपहर लखनऊ में निधन हो गया था। शनिवार दोपहर निधन हो गया। परिवार जन सुबह उन्हें डॉक्टर राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लेकर पहुंचे थे। यहां पर उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया 3:30 बजे उनकी मृत्यु हो गई। उप मुख्यमंत्री के पिता श्यामलाल मौर्य करीब 80 वर्ष के थे। उनकी 3 दिन से तबीयत खराब थी। शुक्रवार रात को हालत और बिगड़ गई कौशांबी से परिवार जन उन्हें सुबह 11:30 बजे लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लेकर पहुंचे । यहां डॉ. भुवन चंद ने जांच की इससे लगभग 3 दिन पूर्व हार्ट अटैक पड़ने की पुष्टि हुई । वहीं ब्लड प्रेशर लो शरीर में ऑक्सीजन सैचुरेशन बेहद कम रहा पल्स रेट व हार्ट रेट भी गिरती चली गई। उन्हें सांस लेने में भी तकलीफ होने लगी तो उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया। पिता की मृत्यु की सूचना डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को दी गई। तब वो इलाहाबाद में थे। वहां पर सभी कार्यक्रम छोड़कर शाम 5:00 बजे लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान पहुंचे। इसके बाद मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य बृजेश पाठक समेत तमाम मंत्री अस्पताल पहुंचे। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के पिता श्यामलाल मौर्य के निधन पर राज्यपाल राम नायक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष  डॉ. महेंद्र नाथ पांडे प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल समेत कई मंत्रियों और पार्टी के नेताओं ने दुख जताया। निधन की खबर पाने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केशव प्रसाद मौर्य से बात कर उन्हें सत्ता व ना दी। मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के पिता के अंतिम दर्शन के लिए पूरे प्रदेश से अलग अलग जगहों से भाजपा के कार्यकर्ता शुभचिंतक और परिवार जन मौजूद रहे। और उनके पिता को भावपूर्ण श्रद्धांजलि श्रद्धा सुमन अर्पित किए।।   [ ब्यूरो रिपोर्ट इलाहाबाद]