पवन के कत्ल का पर्दाफाश चार गिरफ्तार

प्रयागराज : थरवई थाना क्षेत्र के कुसूंगुर गांव निवासी छात्र पवन उर्फ शिव सिंह का कत्ल उसके ही दोस्तों ने किया था। पुलिस ने बहरिया धमौर के रोहित यादव, थरवई के सुनील यादव उर्फ समर, देवेश पाल उर्फ डीके और गामा को गिरफ्तार कर हत्याकांड का राजफाश किया है। रविवार शाम अभियुक्तों को पुलिस लाइन सभागार में मीडिया के सामने पेश किया गया।

एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि रोहित यादव के बड़े भाई की साली से पवन का प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसी बीच उनके बीच अनबन हुई तो युवती रोहित के संपर्क में आ गई और पवन से दूर रहने लगी। इससे नाराज होकर पवन अक्सर उसे धमकाता था। करीब 15 दिन पहले पवन ने युवती के चेहरे पर तेजाब फेंकने की धमकी दी थी। पुलिस का दावा है कि पुणे में रहकर प्राइवेट नौकरी करने वाले रोहित ने सुशील यादव को 20 हजार रुपये देकर पवन को ठिकाने लगाने की बात कही।

31 अक्टूबर की रात रोहित ने पवन को फोन करके बुलाया और फिर सभी ने कछार में मनकामेश्वर मंदिर के पास शराब पी। जब पवन नशे में हो गया तो रोहित, देवेश और गामा ने हाथ-पैर पकड़ लिया। इसके बाद सुनील ने गमछे से पवन का गला कस दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी वहां से भाग निकले।

शनिवार दोपहर जब पवन की लाश खाली पानी की टंकी में मिली तो पुलिस ने छानबीन की। पवन की पैंट के जेब से सारंगापुर की एक लड़की की तस्वीर मिली, जिसके आधार पर पुलिस आरोपितों तक पहुंची। एसएसपी ने इंस्पेक्टर थरवई राजकिशोर, एसआइ बलवंत, राजेश व झब्बू यादव की टीम को 20 हजार का इनाम देने की बात कही।[ ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज]