12 वर्षीय कुलदीप की मौत के आरोपी गिरफ्तार

प्रयागराज:प्रयागराज नवाबगंज थाना क्षेत्र कौड़िहार के सराँयजयराम गाँव में आठ दिन पहले नाली बनाने के लिए बची 20 ईंट को घर के सामने बिछाने पर दो पक्षों में विवाद हो गया था। झगड़ा बढऩे पर ग्राम प्रधान के बेटे समेत अन्य ने ताबड़तोड़ फायरिंग की थी। गोली लगने से 12 वर्षीय कुलदीप की मौत हो गई थी, जबकि कुंवर बहादुर, रणजीत उर्फ खुटेरे व श्याम बहादुर जख्मी हो गए थे। हत्याकांड के दूसरे दिन परिजन व स्थानीय लोगों ने बालक की लाश हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया था। उस मामले में भी पुलिस ने एमएलसी वासुदेव यादव, उनकी बेटी निधि समेत 200 से अधिक पर मुकदमा दर्ज किया था।उधर बालक की हत्या व तीन लोगों के जख्मी जैसे सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपित घर छोड़कर फरार हो गए थे। पुलिस छापेमारी का दावा भी करती रही। रविवार को इंस्पेक्टर नवाबगंज शिशुपाल शर्मा ने एसआइ सुरेंद्र शुक्ला की टीम के साथ घेरे बंदी कर प्रधान का बेटा पंकज पांडेय, चंद्र प्रकाश पांडेय व कुंवर पांडेय को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके कब्जे से पुलिस ने दो लाइसेंसी बंदूक और कारतूस बरामद हुआ है। ग्राम प्रधान संत बहादुर, संजय पांडेय, सार्थक और आशीष पांडेय अभी फरार हैं। सभी की तलाश चल रही है।  कड़ाई से पूछताछ के बाद हत्या में प्रयुक्त लाइसेंसी बंदूक भी बरामद की गई।एसएसपी अतुल शर्मा का कहना है कि असलहा का लाइसेंस निरस्त करवाया जाएगा। अभी तक की जांच में प्रधान की संलिप्तता सामने नहीं आई है। साक्ष्य के आधार पर आगे की कार्रवाई करते हुए सभी को गिरफ्तार किया जाएगा।[रिपोर्ट जीशान अहमद प्रयागराज]