पूर्व माध्यमिक विद्यालय के संकुल भवन में मजूदर का कत्ल

प्रयागराज: प्रयागराज बहरिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत करनाइपुर गांव स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय के संकुल भवन में 45 वर्षीय मजूदर कन्हैया लाल बिंद का कत्ल कर दिया गया। हमलावरों ने मजदूर के  सिर पर ईंट से कई प्रहार किए थे। जब उसकी सांसे थम गई तो घसीट कर बाहर ले आए और खिड़की  में गमछे से शव को लटका दिया। सुबह आसपास के लोगों ने शव को गमछे के सहारे लटकते देखा तो गांव में खलबली मच गई। पुलिस और डॉग स्क्वॉयड की टीम ने जांच की। पुलिस पूछताछ के बाद दो संदिग्धों को उठाया है। करनाइपुर निवासी कन्हैया लाल बिंद चार भाइयों में दूसरे नंबर का था। उसके पिता की मौत हो चुकी है। वह अविवाहित था और मजदूरी कर गुजर बसर करता था। वह कभी मां के यहां खा लेता था तो कभी किसी होटल में खाकर वहीं सो जाता था। गांव के लोगों के मुताबिक वह नशे का आदी था। अक्सर इसी चक्कर में वह रात में विद्यालय के संकुल भवन में जाता था। विद्यालय के भवन में खिड़की और दरवाजे नहीं हैं। इसके चलते वहां रोजाना रात में नशेडिय़ों का जमावड़ा होता था। ग्रामीणों ने आशंका जताई कि रात में वह कन्हैया लाल का नशेडिय़ों से किसी बात को लेकर विवाद हुआ होगा। इसके बाद उसकी हत्या कर दी गई। हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए हमलावर शव को कमरे से घसीटकर बाहर ले आए और शव को गमछे के सहारे खिड़की की ग्रिल से लटका दिया। सुबह खबर पाकर इंस्पेक्टर बहरिया और डॉग स्क्वॉयड मौके पर पहुंचा। जानकारी होने पर पुलिस अधिकारी भी पहुंचे और जांच-पड़ताल की। खोजी कुत्ता कमरे से निकलकर विद्यालय परिसर के पीछे की ओर से गया जहां चहारदीवारी टूटी हुई है। पुलिस का कहना है कि कुछ लोगों को उठाकर पूछताछ की जा रही है। घरवालों ने किसी से रंजिश की बात से इन्कार किया है ।समाज की नीव गरीब और मजदूर किसान से शुरू होती है पर आज के दौर में बड़े क्राइम तो हो ही रहे हैं जिनसे निपटने के लिए प्रदेश सरकार ठोस कदम उठा रही हैं पर मजदूरों के साथ कत्ल जैसे घटनाएं घट रही हैं इनका जिम्मेवार कौन होगा क्या सरकार ऐसी घटनाएं ना घटे के लिए भी कोई कदम उठाएगी|  (ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज)