घूस लेते “एडीओ” का वीडियो वायरल शौचालय और आवास के नाम पर ले रहे थे घूस

प्रयागराज: प्रयागराज उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश बनाना चाहती है।  पर भ्रष्टाचार बढ़ता ही जा रहा है।  भ्रष्टाचारियों को संविधान और सरकार की कार्यवाही का कोई डर नहीं।  ऐसा ही एक मामला बहादुरपुर विकासखंड के एक सहायक खंड विकास अधिकारी एडीओ ने रिटायर होने से पहले जमकर की रिश्वतखोरी इससे जुड़ा वीडियो वायरल होने पर अफसरों में हड़कंप की स्थिति है। सेवानिवृत एडीओ ने बीडीओ समेत अन्य उच्चाधिकारियों के नाम पर ग्राम प्रधानों से हर माह वसूली की। रिटायरमेंट से ठीक पहले एक प्रधान से 20 हजार रुपये रिश्वत लेने का वीडियो सामने आने के बाद सीडीओ अरविंद सिंह ने जांच के निर्देश दिया है। जांच रिपोर्ट आने तक उसके फंड के भुगतान पर रोक लगा दी गई है।   बहादुरपुर विकासखंड में ग्राम पंचायत अधिकारी यमुना प्रसाद यादव को पिछले दिनों डीपीआरओ और वीडियो ने एडीओ का प्रभार दे दिया था।  यमुना प्रसाद को एक दर्जन से ज्यादा गांव का प्रभार मिला था।  आरोप है कि उन्होंने ग्राम प्रधानों से शौचालय और आवास निर्माण के नाम पर जमकर वसूली की।  भतकार गांव  में प्रधान के घर में शौचालय निर्माण में 20 हजार रुपए की घूस लेते समय का वीडियो वायरल हुआ एडीओ 30 जून को ही रिटायर हुए हैं 3 मिनट 9 सेकंड 2 मिनट 54 सेकंड के दो वीडियो में एडीओ प्रधान से रिश्वत मांग रहे हैं वह इस दौरान डीएम सीडीओ और वीडियो का नाम भी ले रहे हैं 10 -10 हजार रुपए की दो गड्डियां लेते हुए दिखाई दे रहे हैं। सीडीओ का कहना है कि यह बेहद गंभीर मामला है।  इसकी जांच कराई जाएगी जांच रिपोर्ट आने तक तत्कालीन एडीओ   के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।  जब तक जांच रिपोर्ट नहीं आ जाती तब उनके फंड के भुगतान पर भी रोक लगा दी गई है।  इसके अलावा प्रधान को भी नोटिस भेजी जाएगी जवाब -तलब किया जाएगा। { ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज}