बैंक मैनेजर की गोली मारकर  हत्या

प्रयागराज: प्रयागराज  प्रदेश  की योगी सरकार अपराधियों पर लगाम लगाने में अपने भरपूर पूरे प्रयास कर रही है । आए दिन अपराधियों के एनकाउंटर अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया जा रहा है । पर अपराधी हैं कि अपराध को छोड़ने का नाम ही नहीं ले रहे हैं । क्या प्रतापगढ़ क्या प्रयागराज दोनों जिलों में जैसे अपराधियों की बाढ़ आ गई हो । कभी वकील को निशाना बनाते हैं तो कभी व्यापारी को तो कभी एक आम आदमी को तो कभी किसान को योगी सरकार में बेखौफ बदमाश एक के बाद एक घटना को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहे । प्रशासन का कोई खौफ नहीं रह गया इन बदमाशों को और अब बैंक मैनेजर को बनाया निशाना प्रयागराज जिले के मऊआइमा थाना क्षेत्र के अंतर्गत मरखामऊ  गांव के निकट इलाहाबाद बैंक मैनेजर की गोली मारकर  हत्या कर दी । बेखौफ बदमाशों ने शुक्रवार की दोपहर चलती कार में गोली मारकर घटना को अंजाम दिया। पेट में गोली लगने के  बाद वह लहूलुहान हाल में बैंक तक कार चलाकर गए। कार में उनके साथ सहायक प्रबंधक भी थे। वहां पहुंची पुलिस उन्हें तत्काल शहर के एसआरएन अस्पताल ले गई, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।बताया जाता है कि इलाहाबाद बैंक की बांका जलालपुर शाखा के प्रबंधक अनिल कुमार दोहरे अपने शहर में कालिंदीपुरम स्थित आवास से निकले। कार में उनके साथ उसी शाखा के सहायक प्रबंधक नवीन जैसवाल भी थे। दोनों ड्यूटी पर जा रहे थे। सुबह के करीब 10 होंगे। मऊआइमा थाने से तकरीबन डेढ़ किलोमीटर दूर मरखामऊ गांव के पास कार पहुंची थी। इसी दौरान पल्सर पर सवार दो बदमाश कार के आगे-पीछे होने लगे। वाहन अनिल चला रहे थे। जब तक प्रबंधक और सहायक प्रबंधक कुछ समझ पाते, पल्सर सवारों ने चलते वाहन में पिस्टल निकाल लिया। उन्होंने शाखा प्रबंधक अनिल कुमार दोहरे के पेट में गोली मार दी। इसके बाद वह फरार हो गए।पेट में गोली लगने के बाद अनिल कुमार दोहरे लहूलुहान हो गए। इसके बाद भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और खुद कार चलाकर इलाहाबाद बैंक की बांका जलालपुर शाखा तक पहुंचे। वहां वह बेहोश होकर गिर गए। इस बीच रास्ते में अनिल के साथ मौजूद सहायक प्रबंधक नवीन जैसवाल ने बैंक के साथियों और मऊआइमा पुलिस को सूचना दी।इधर सूचना मिलते ही एसएसपी अतुल शर्मा, एसपी गंगापार नागेंद्र कुमार सिंह, सीओ सोरांव अमित श्रीवास्तव सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। अनिल को उन्हीं की कार से एसआरएन अस्पताल पुलिस ले गई। वहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वारदात स्थल की जांच के दौरान पुलिस को मौके से एक नाइन एमएम को खोखा मिला है। बैंक मैनेजर अनिल दोहरे की हत्या की खबर पाकर सैकड़ों की संख्या में बैंक कर्मी, रिश्तेदार और घरवाले एसआरएन अस्पताल में पहुंच गए। उधर मौत की सूचना पर घरवालों का रो-रोकर हाल बेहाल है। पत्‍नी मंजू बेटा श्रेष्‍ठ और बेटियां खुशबू व रितु की आंखों से आंसू नहीं रुक रहे हैं। एसएसपी अतुल शर्मा ने बताया कि बदमाशों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीम लगी है, जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। [रिपोर्ट गयासुद्दीन संवाददाता सोरांव ]