असलहा बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

 प्रतापगढ़: प्रतापगढ़ जेठवारा थाना क्षेत्र के अंतर्गत प्रतापगढ़ क्षेत्र में जहां आए दिन गोलीबारी की घटनाएं सामने आ रही हैं। वही प्रतापगढ़ पुलिस ने असलहा बनाने वालों गिरोह का का पर्दाफाश किया।  जेठवारा पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार करके उनकी निशानदेही पर अवैध असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया। फैक्ट्री से पुलिस ने गैंग के सरगना को गिरफ्तार करके 10 तमंचा, एक रिवाल्वर और चोरी की दो बाइक बरामद किया।जेठवारा एसओ विनोद यादव फोर्स के साथ गुरुवार देर शाम खटवारा गांव में लोनी नदी पुल पर वाहनों की चेङ्क्षकग कर रहे थे। उसी समय डेरवा की ओर से दो बाइक पर चार लोग आते दिखाई दिए। पुलिस को देख बाइक सवार मुड़कर भागने लगेे, लेकिन पुलिस ने घेराबंदी करके चारों को पकड़ लिया। गिरफ्तार फईम पुत्र अनीस निवासी हबीब नगर, भावनपुर, थाना जेठवारा, मोहम्मद सराफत पुत्र मोहम्मद आजम निवासी गोपालगंज, आजम पुत्र निजाम निवासी फशियालगढ़, मोहम्मद इसरार पुत्र स्वर्गीय मोहम्मद यूनुस निवासी खटवारा के पास मिली दोनों बाइक चोरी की निकली।पुलिस लाइन के सई कांप्लेक्स में प्रेस कांफ्रेंस में एसपी अभिषेक ङ्क्षसह ने बताया कि पकड़े गए चारों बदमाशों ने पूछताछ में कबूल किया है कि वह असलहा बनाकर बेचते रहे। उनका साथी सईद पुत्र स्व. लतीफ निवासी भावनपुर गांव में एक खंडहर में असलहा बनाता है। चारों बदमाशों के बताने के बाद पुलिस ने खंडहर में बनाई गई फैक्ट्री में छापा मारा तो वहां सईद मिल गया। पुलिस ने सईद को गिरफ्तार करके छह तमंचा, एक रिवाल्वर, चार अद्र्ध निर्मित तमंचा, 15 कारतूस, ड्रिल मशीन समेत असलहा बनाने का उपकरण एवं 42 रुपये बरामद किया।एसपी ने बताया कि सईद का दामाद जेठवारा थाने का टॉप टेन का अपराधी है। उसके घर पर दबिश दी गई, लेकिन वह नहीं मिला। सईद अवैध असलहे के साथ पहले भी जेल जा चुका है। एसपी ने एसओ समेत पुलिस टीम को नौ हजार रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की।[ब्यूरो रिपोर्ट प्रतापगढ़ ]