खेत में मिली 20 वर्षीय युवती की लाश नहीं हो सकी अभी तक पहचान

प्रयागराज: प्रयागराज …23\08\2019 योगी सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए हर ठोस कदम उठाए जा रही है।  पर अपराधी है कि सरकार की सुरक्षा की धज्जियां उड़ाते जा रहे हैं।  उन्हें योगी सरकार के प्रशासन का जरा भी खौफ नहीं है।  आखिर ऐसा क्यों हो रहा है।  हमारे समाज के लिए एक प्रश्न चिन्ह बन के खड़ा हो गया है।  आए दिन कभी किशोरी कभी युक्ति कभी महिला कभी वृद्धा महिलाओं पर अत्याचार दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है।  क्रेंद्र सरकार और प्रदेश सरकार महिलाओं की रक्षा के लिए सुरक्षा के लिए हर प्रयास कर रही है। पर यहां महिलाओं पर उत्पीड़न के अत्याचार की रोज नए-नए वारदात को अंजाम दिया जा रहा है।  आखिर ऐसा क्यों हो रहा है इस तरीके की घटनाओं को अंजाम देने वाले अपराधियों को क्या प्रशासन का कोई खौफ नहीं रह गया है।  ऐसी ही एक घटना उतराव थाना क्षेत्र के अंतर्गत हाईवे की बगल में स्थित है समाधि पुर गांव में बुधवार को खेत में करीब 20 वर्षीय युवती की   हत्या कर दी गई थी।  स्थिति को देखते हुए यह लग रहा था की दुष्कर्म के बाद युवती की हत्या कर दी गई थी।  युवती की शिनाख्त के लिए पुलिस की दो टीम लगाई गई है। फिर भी दो दिन बाद भी उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है।पुलिस ने टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी फुटेज को भी देखा कि शायद किसी वाहन में संदिग्ध लोग नजर आ जाएं। पुलिस ने घटना वाली रात में नौ बजे से भोर पांच बजे तक का फुटेज देखा। हालांकि पुलिस का कहना है कि अभी कुछ ऐसा क्लू नहीं मिला है, जिससे युवती की शिनाख्त हो सके।उतरांव पुलिस ने आसपास के जनपदों, भदोही, मीरजापुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, कौशांबी, वाराणसी आदि जिलों की पुलिस से संपर्क किया है। पुलिस को युवती का फोटो उपलब्ध कराने के साथ ही गायब युवतियों के बारे में जानकारी ली। साथ ही पुलिस ने युवती के शव की फोटो सोशल मीडिया पर भी वायरल किया है। ताकि कहीं से भी युवती की शिनाख्त हो सके। जांच में जुटी उतरांव पुलिस की दो टीम ने युवती की शिनाख्त के लिए तीन दिन में सौ गांवों के  प्रधानों से संपर्क किया। उनसे जानकारी ली कि उनके या आसपास के गांव से कोई युवती गायब तो नहीं हुई है। तीन दिन बाद भी पुलिस को सुराग नहीं मिला है। आशंका जताई जा रही है कि युवती गैर जनपद की थी। हत्या के बाद शव को यहां लाकर ठिकाने लगाया गया है।थाना प्रभारी उतरांव दीपक सिंह ने बताया कि पुलिस की दो टीम मामले की जांच में लगी है। युवती की पहचान के लिए कोखराज और भदोही स्थित टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया। हालांकि युवती और बदमाशों के बारे में पुलिस को सुराग नहीं मिला। युवती की शिनाख्त न होने से शव का पोस्टमार्टम अब तक नहीं हुआ था। अब शनिवार को शव का पोस्टमार्टम पुलिस कराएगी। पोस्टमार्टम से यह साफ होगा कि युवती की हत्या कैसे की गई और शव मिलने के कितनी देर पहले उसकी हत्या की गई थी। पीएम रिपोर्ट से ही स्पष्ट होगा कि युवती के साथ दुष्कर्म तो नहीं हुआ था। युवती की पहचान न होने से हत्या की वजह और बदमाशों तक पुलिस का पहुंच पाना किसी चुनौती से कम नहीं है। पुलिस की टीमें अपना भरपूर प्रयास कर रही  है।  किसी तरीके से युवती  की पहचान हो सके और इस घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को जेल के अंदर पहुंचाया जा सके।  {रिपोर्ट अंकुर सिंह }