2019 लोकसभा चुनाव :प्रतापगढ़ में गरजे :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

प्रतापगढ़ :प्रतापगढ़ 4\5\2019 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ और सुल्तानपुर की जनता से अपील की कि अपने सांसद को भारी से भारी मतों से विजई बनाकर संसद भवन पहुंचाए और फिर एक बार मोदी सरकार बनाएं सबका साथ सबका विकास फिर एक बार मोदी सरकार इसी नारे के साथ भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में किया चुनावी जनसभा को संबोधित 40 डिग्री तापमान के बीच शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली शहर के बीच स्थित जीआईसी कॉलेज मैदान में  मध्य दोपहरी में सूरज सिर के  ऊपर तक रहा था मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने भाषण में कानून के साथ खिलवाड़ करने वालों की जगह जेल या फिर राम नाम सत्य की तैयारी करने के बेबाक संदेश से सियासी तापमान चढ़ा ही रहे थे कि   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर के लैंडिंग के संकेत हो गए मोदी मंच पर आए तो खुली छत व दीवारों पर खड़ी भीड़ का सिर झुकाकर नमन कर चुनावी तापमान को मौसम के तापमान से भी ऊपर चढ़ा दिया।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश में हुए विकास की चर्चा की और राष्ट्र सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा की उड़ीसा में आए तूफान सांप की फन जैसे समुद्री तूफान जैसे फोनी जिसकी रफ्तार 175 से 180 किलोमीटर प्रति घंटा थी साथ में बरसात की वजह से मौसम में कुछ ठंडक आ गई शनिवार को सूरज के तेवर शुक्रवार की तुलना में कुछ कम थे लेकिन जीआईसी मैदान में सियासी तापमान शुक्रवार की तुलना से शनिवार को ज्यादा चढ़ा हुआ था वजह प्रतापगढ़ के भाजपा प्रत्याशी संगम लाल गुप्ता और सुल्तानपुर के प्रत्याशी श्रीमती मेनका गांधी के पक्ष में आयोजित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की संयुक्त रैली मुख्यमंत्री विकास की चर्चा से बात शुरू कर राष्ट्र रक्षा के मुद्दे पर आए तो भी उन्हें भारत माता की जय से उनका समर्थन किया प्रचंड गर्मी में योगी ने सियासी तापमान चढ़ाकर प्रधानमंत्री मोदी को आमंत्रित कर दिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 दिन पहले कौशांबी की अपनी चुनावी रैली में कह चुके थे कि मोदी तो फिर मोदी रहे यहां भी उसी रौ में थे। भीड़ से मैदान फुल था, मैदान के किनारे स्थित घरों की छतों पर तीखी धूप में महिलाएं पुरुष और बच्चे खड़े थे, खिड़कियों से भी झांक रहे थे, जो अंदर नहीं पहुंच पाए, वह बाउंड्री की दीवाल पर चढ़कर खड़े हो गए। मोदी मंच पर आए तो इधर-उधर निगाह दौड़ाकर माहौल को भांप लिया कि कहां से बात कर जनता से  सीधे जुडऩा है। अवधी भाषा में भीड़ से दुआ, बंदगी कर मोदी सीधे मुखातिब हुए उनसे मोदी के सीधे संवाद का असर यह रहा कि उनके भाषण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चलाया शब्दभेदी बाण उन्होंने कहा ना मैं गिरा न मेरी उम्मीदें गिरी पर मुझे गिराने में लोग गिरे कई बार और उन्होंने नारा दिया कुछ भी कर लो फिर एक बार मोदी सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा की कांग्रेस यूपी में वोट कटाव पार्टी बन चुकी है कांग्रेस का काम देश बांटना और वोट  काटना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महा मिलावट के पंजे का पांचो खतरे को भी गिनाया उनके भाषण तक भीड़ धूप में भी टस से मस नहीं हुई। मौके पर मौजूद वहां की जनता ने कहा कोई तो है जो हम धूप में खड़े हुए लोगों के बारे में चिंता तो करता है हमें ऐसा प्रधानमंत्री चाहिए जो एसी में बैठने वालों की चिंता कम करें और धूप में खड़े होकर काम करने वालों की चिंता ज्यादा करता है अंत में मोदी ने फिर उन्हीं से मुखातिब होकर पूछा कि वहां कोई प्राब्लम तो नहीं, सब सलामत तो है ना। हां में जवाब पाकर वह अगली रैली के लिए रवाना हो गए।[ ब्यूरो रिपोर्ट प्रतापगढ़ ]