मेरठ: आठ हेल्थ वर्कर समेत 25 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, कोरोना को मात देकर 19 डिस्चार्ज भी हुए

मेरठ। जिले में कोराना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। रोज नए कोरोना संक्रमण के केस सामने आने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता लगातार बढ़ रही है। नए कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उनकी चेन को तोड़ना चुनौती बनता जा रहा है। शुक्रवार को 25 लोगों की कोरोना सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जिले में अब तक कोरोना संक्रमित मरीजों को संख्या 1063 हो गई है।

जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ विश्वास चौधरी के अनुसार संक्रमित मिले मरीजों में रोहटा थाने की पूठ चौकी पर तैनात एक पुलिसकर्मी भी कोरोना पॉजिटिव मिला है। सुभारती अस्पताल के आठ हेल्थ केयर वर्कर की सैंपल रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। सेलटैक्स से रिटायर्ड अधिकारी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। एक शराब के ठेके के सेल्समैन की सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव आया है।

इसके अलावा बेगमबाग की एक महिला, बिसौला गांव का एक युवक, मवाना का 71 वर्षीय किसान, 27 साल का दुकानदार, महलवाला गांव की युवती, श्यामनगर की एक महिला और शास्त्रीनगर की एक 40 साल की महिला भी कोरोना संक्र​मित मिली है। डॉ विश्वास चौधरी के मुताबिक संक्रमित मिले मरीजों को कोविड अस्पतालों में भर्ती कर इलाज शुरू किया जा रहा है। जिन इलाकों में यह मरीज मिले उन्हें सैनेटाइज कराया जा रहा है। जिन इलाकों में नए मरीज मिले हैं उन्हें हॉटस्पॉट बनाकर सुरक्षा बरती जाएगी।

19 मरीजों ने कोरोना को हराया

कोरोना के जहां नए मरीज रोज सामने आ रहे हैं वहीं राहत की बात ये है कि कोरोना को मात देकर स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। शुक्रवार को कोरोना को मात देने वाले 19 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। भाजपा विधायक सोमेंद्र तोमर की 75 वर्षीय मां ने भी कोरोना को मात दे दी है। शुक्रवार को उन्हें भी श्रीराम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज अस्पताल से रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया।

मेडिकल और जिला अस्पताल का निरीक्षण किया
नोडल अधिकारी पी गुरूप्रसाद ने मेडिकल कॉलेज अस्पताल और जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। यहां की जा रही टेस्टिंग आदि की जानकारी की। डॉक्टर्स और पैरा मेडिकल स्टॉफ से बात करते हुए कहा कि मरीज के इलाज में किसी तरह की लापरवाही न हो। उन्होंने टीम वर्क के साथ काम करने के लिए कहा। नोडल अधिकारी ने जिला अस्पताल में कोविड टेस्ट की संख्या बढ़ाने के लिए कहा। मेडिकल अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों से नोडल अधिकारी ने फोन पर बात कर फीड़बैक लिया। मेडिकल अस्पताल की ओपीडी के बारे में भी नोडल अधिकारी ने जानकारी ली। इस दौरान डीएम अनिल ढींगरा भी मौजूद रहे।